Saturday, November 28, 2020

महोबा : दीपावली की पूर्व संध्या पर खाकी ने लिया धन लक्ष्मी यंत्र का सहारा, बेगम बाहर बादशाह अंदर के शौकीनों को पकड़कर मनाई हैपी दीवाली

Must read

अच्छी पैदावार के लिए खेत में नमी होना बहुत आवश्यक है : नीति आयोग

बांदा : वर्षा बूंदे जहां गिरे वहीं पर रोके, जिस खेत में जितना पानी होगा उतनी अधिक नमी रहेगी और अच्छी पैदावार के लिए...

सुशील मोदी लालू के पीछे पड़े, कथित नंबर ट्वीट कर किया वायरल

बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम सुशील मोदी के द्वारा ट्वीट कर लालू यादव का कथित मोबाइल नंबर सार्वजनिक किया गया। साथ ही एनडीए सरकार...

दिल्ली सरकार का बड़ा फैसला- कोरोना मरीजों के लिए MBBS स्टूडेंट्स से सेवा लेगा अस्पताल

नई दिल्ली : कोरोना वायरस (CoronaVirus) के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए राजधानी दिल्ली में केजरीवाल सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया है। सरकार...

छत्तीसगढ़: दोस्त संग घूमने निकली आदिवासी नाबालिग लड़की से सामूहिक दुष्कर्म

कवर्धा/रायपुर : राजधानी में गैंगरेप की वारदात के बाद अब कवर्धा में दोस्त संग घूमने निकली एक आदिवासी नाबालिग लड़की के साथ चार युवकों...

रितुराज राजावत
रितुराज राजावत

महोबा : चीनी को दोबारा जमाकर गन्ना बनाने का हुनर सिर्फ खाकी वर्दी के पास है बांकी तो सब मोह माया मानी जानी चाहिए । वो किसी की भी ले सकती है और किसी को भी दे सकती है कृपया इसको अलग भावना से तनिक भी न लें क्योंकि खाकी की चाय सभी के नसीब में नही आती है अगर वो बोले की लोगे तो तत्काल ले लेनी चाहिए क्योकि जब हमारे छप्पन इंची छाती वाले चाय पर चर्चा कर सकतें हैं तो निश्चित रूप से आप भी बाबा साहब भीम राव अम्बेडकर के मौलिक अधिकारों का उपभोग करने के लिए पर्याप्त भी हैं और स्वतंत्र भी। अब रही बात देने की तो विशेष आशीर्वाद विशेष परिस्थितियों में ही प्राप्त होता है अगर वो आपसे प्रसन्न होकर एग्राचित मुद्रा में आपको आशीर्वाद दे रहें हैं या दे दें तो अंततः विजय आपकी ही सुनिश्चित है फिर चाहे वो अनैतिक ही क्यों न हो । ये बात ठीक उसी तरह लेनी चाहिए जैसे कि बाबा बहुत दानी हैं बाबा सब को देतें हैं । कुल मिलाकर कहें तो अनिश्चितता को दायरे में निश्चित रूप से सब कुछ सही चल रहा है क्योंकि राम राज्य की परिकल्पना करने मात्र पर मस्तिष्क में समस्त विचार स्वतः ही सात्विक आने लगतें हैं । वो देने में भी सुखी हैं और वो लेने में भी सुखी है दोनों तरफ से सुख भोगने का समस्त कार्यभार संभालने वाले ऐसे कलाकार आज के युग में मिलना अत्यंत कठिन और जटिल कार्य माना और समझा जाना चाहिए । बाबा के राज में उन्ही के ही नुमाइंदे अनलोम विलोम करने में उसी तरह से मदमस्त हो चुके हैं जैसे की चीन ने पाकिस्तान में अपना पताका बुलन्द कर रखा है । वीर भूमि कही जाने वाली इसी धरती में अभियान के दौरान एक साल बाद मिली सफलता का इतिहास उसी तरह से लिया जाना चाहिए जैसे की कटप्पा ने बाहुबली को क्यो मारा का रहस्य जानने के लिए एक वर्ष से अधिक का लम्बा अंतराल । कोरोना काल के दौरान देश की अर्थव्यवस्था का भार अपने कंधों पर उठाने वाले बेवड़ा उर्फ पियक्कड़ एशोसिएशन के अति विशिष्ट पदाधिकारी भी खाकी की जबरजस्ती से अछूते नही दिखे । अभियान के नाम पर थाने चलो आंदोलन के तहत अर्थ व्यवस्था को सुचारु रखने वाले इस विशेष वर्ग को भी नही बख्शा गया । जबरन उठाओ और ले के आओ कार्यक्रम के दौरान पचास की पंगत के दरमियान बैठाले गए हिलो डुलो और गिरो जैसी असीम क्षमता का कुशल प्रतिनिधित्व करने वाले विशेषता के धनी इन व्यक्तियों से स्पेशल चार्ज लेना न तो किसी दृष्टिकोण उचित कहा जा सकता है और न ही माना । कुल मिला कर कहें तो दिवाली ने दीवाला निकाल दिया है…….

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article

सपा के वरिष्ठ नेता ने कहा – लोकतन्त्र की आत्मा को कुचल रही है सरकार, जाने क्यों

बलिया : यूपी विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामगोविन्द चौधरी ने कृषि बिल के खिलाफ दिल्ली जा रहे किसानों के साथ सरकार के व्यवहार को...

हरियाणा में प्रदर्शनकारी किसानों पर हत्या के प्रयास, दंगा करने के आरोप में किया केस दर्ज

नई दिल्ली : हरियाणा पुलिस ने भारतीय किसान संघ (BKU) की प्रदेश इकाई के प्रमुख गुरनाम सिंह चारूणी और अन्य किसानों पर ‘दिल्ली चलो’...

मुज़फ़्फ़रपुर : मैट्रिक और इंटर की 2021 में होने वाली परीक्षाओं को लेकर जिला पदाधिकारी की अध्यक्षता में हुई समीक्षा बैठक

मुज़फ़्फ़रपुर : बिहार बोर्ड इंटरमीडिएट और मैट्रिक 2021 में होने वाली परीक्षाओं की तैयारियों को लेकर शनिवार को मोतीझील स्थित बीबी कॉलेज में जिला...

खराब हो गया है तेजस्वी यादव का मानसिक संतुलन : युवा JDU

बेगूसराय : विधानसभा में राजद नेता तेजस्वी यादव द्वारा मुख्यमंत्री पर किए गए बयानबाजी के विरुद्ध शनिवार को युवा जदयू के कार्यकर्ताओं ने बेगूसराय...

किसान की आय बढ़ाने वाला कानून सरकार कब ला रही है : अखिलेश यादव

लखनऊ : किसान आंदोलन (Farmer Protest) के प्रति सरकार के रवैए पर तीखी प्रतिक्रिया व्‍यक्‍त करते हुए समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और यूपी के...