देश के सबसे बड़े वकील रामजेठमलानी के बारे में आई ये दुखद खबर

वरिष्ठ वकील और जेडीयू के नेता राम जेठमलानी का 95 साल की उम्र में निधन हो गया। लंबे समय से बीमार चल रहे जेठमलानी ने रविवार सुबह 9 बजे अपनी आखिरी सांसें ली । वे एक वकील होने के साथ जेडीयू की तरफ से राज्यसभा सांसद भी थे।

राम जेठमलानी लंबे समय से बीमार चल रहे थे । राम जेठमलानी ने अपने जीवन काल मे  कई मशहूर केस लड़े हैं । इसमें इंदिरा गांधी के हत्यारों का केस, डॉन हाजी मस्तान और हर्षद मेहता जैसे केस है । राम जेठमलानी पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के हत्यारों सतवंत सिंह और केहर सिंह के वकील के तौर पर पेश हुए थे । यही नहीं उन्होंने एम्स के डॉक्टर और इंदिरा गांधी के शव का पोस्टमार्टम करने वाले टी डी डोगरा द्वारा दिए गए मेडिकल प्रमाणों को भी चैलेंज किया था । हालांकि उनके इस केस पर कई लोगों ने आपत्ति जताई थी ।

राम जेठमलानी के निधन पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दुख व्यक्त किया है । अरविंद केजरीवाल ने कहा, अपने आप में एक संस्था, उन्होंने स्वतंत्रता के बाद के भारत में आपराधिक कानून को आकार दिया । उसका शून्य कभी नहीं भरा जाएगा और उसका नाम कानूनी इतिहास में सुनहरे शब्दों में लिखा जाएगा । वहीं बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने राम जेठमलानी के निधन पर शोक जताते हुए ट्वीट किया । उन्होंने लिखा, अलविदा दोस्त । एनसीपी के अध्यक्ष जयंत पाटिल ने उनके निधन पर दुख प्रकट करते हुए लिखा ”।” वहीं महाराष्ट्र के युवा कांग्रेस के अध्यक्ष सत्यजीत तांबे ने लिखा कि

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button