शिव सेना और बीजेपी के बीच कैसे आया भारत पाकिस्तान?

0
85

महाराष्ट्र(Maharashtra) में विधानसभा चुनावों के चलते बीजेपी-शिवसेना के बीच टकराव की तुलना भारत-पाक टकराव से की जा रही है। दोनों पार्टियां अपनी मांग कम करने को तैयार नहीं है। शिवसेना के नेता संजय राउत(Sanjay Raut) ने सीट बंटवारे से जुड़ी परेशानियों को जाहिर करते हुए कहा कि ये बंटवारा भारत-पाकिस्तान के बंटवारे से भी भयंकर है।

शिवसेना और बीजेपी के बीच सीट बंटवारे को लेकर टकराव जारी है। इसपर शिवसेना नेता संजय राउत(Sanjay Raut) ने कहा, “इतना बड़ा महाराष्ट्र है। ये जो 288 सीटों का बंटवारा है, ये भारत पाकिस्तान के बंटवारे से भी भयंकर है।” संजय राउत(Sanjay Raut) ने कहा कि यदि हम सरकार में होने के बजाय विपक्ष में होते तो तस्वीर दूसरी होती। उन्होंने कहा कि सीटों के बंटवारे पर जो भी फैसला होगा, उसे तुरंत मीडिया को बताया जाएगा।

सभी चाहते हैं बराबर बंटवारा

बता दें कि इस वक्त 288 सदस्यों वाली महाराष्ट्र विधानसभा में बीजेपी के पास 122 सीटें हैं, वहीं शिवसेना के पास 63 सीटें हैं। महाराष्ट्र बीजेपी दोनों दलों के बीच सीट बंटवारे के ऐसे सूत्र पर समझौता चाहती है, जिसपर भाजपा के पास 122 सीटें बनी रहें। बाकी शिवसेना पर उसके हिस्से की 63 सीटें रहें और शेष सीटों में से कुछ सीटें रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया जैसे गठबंधन के छोटे दलों को देने के बाद आपस में बराबर बांट ली जाएं। हालांकि शिवसेना अपने लिए कम से कम 130 सीटें चाहती है। वहीं आरपीआई प्रमुख रामदास अठावले अपनी पार्टी के लिए 10 सीटें चाहते हैं। सीटों की इसी रस्साकशी में गठबंधन खतरे में दिखाई दे रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here