मोदी को मिला इस अरब मुल्क का सबसे बड़ा सम्मान, तो जल भुन गया पाकिस्तान

0
63

पीएम मोदी ने अपनी यूएई यात्रा के दौरान इतिहास रच दिया। पिछले कुछ दिनों से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहले फ्रांस और फिर यूएई दौरे पर थे । यूएई दौरे के दौरान उन्हें शनिवार सुबह यूएई ने वहां के सर्वोच्च सम्मान ‘आर्डर ऑफ ज़ायेद’ से सम्मानित किया । सम्मान मिलने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसपर आभार प्रकट करते हुए ट्वीट किया। उनके इस ट्वीट के बाद पाकिस्तानी जनता की तरफ से यूएई पर गुस्से और सवालों की बौछार हो गई ।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को शनिवार को यूएई के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार ‘ऑर्डर ऑफ जायद’ से सम्मानित किया गया । पीएम मोदी ने कहा कि ‘इस पुरस्कार को लेकर मैं बेहद सम्मानित महसूस कर रहा हूं । यह भारत की 1.3 अरब जनता का सम्मान है । उन्होंने कहा कि यह दोनों देशों के बीच साझा सुरक्षा, शांति और समृद्धि के लिए रिश्तों के अभूतपूर्व तालमेल को दर्शाता है। ‘ उनके इस ट्वीट के बाद पाकिस्तानी यूज़र्स की तरफ से गुस्से और नफरत भरे ट्वीट आने लगे । कई पाकिस्तानी ट्विटर यूज़र्स ने तो यूएई के एक मुस्लिम देश होने पर सवाल उठा दिया। कुमैल नाम के एक यूजर ने लिखा, ‘इतिहास में दर्ज होगा कि जब कश्मीर संकट से गुजर रहा था, तो मुस्लिम देश मोदी को अवॉर्ड दे रहे थे ।’ वहीं एक यूजर ने लिखा कि यूएई को शर्म आनी चाहिए क्योंकि कश्मीर में पाबंदियां जारी हैं ।

पाकिस्तान से सम्मान देने की मांग

उजैर अहमद ने ट्विटर पर लिखा, “अगर कश्मीर का मसला सुलझ जाए तो हम फिर से भारतीय फिल्में देखने लगेंगे, क्योंकि हम हिपोक्रेट हैं । हम तभी बोलते हैं जब हमारे हितों को नुकसान पहुंचता है । दुबई के शेख की जितनी चाहे आलोचना कर लीजिए लेकिन उन्होंने वही किया जो उनके देश के हित में है ।” एक पाकिस्तानी यूजर ने तो ईरान के राष्ट्रपति को पाकिस्तान से सम्मान देने की मांग कर डाली क्योंकि ईरान ने कश्मीर पर खुलकर अपनी बात कही। इसके साथ ही अरब के किसी भी साम्प्रदायिक और जातीय युद्ध मे साथ न देने की भी मांग की ।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री मोदी के इस दौरे के बाद फ्रांस और अरब के राष्ट्रपति कश्मीर मुद्दे को लेकर भारत का समर्थन कर रहे हैं । उन्हीने कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाने को भारत का आंतरिक मुद्दा बताया ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here