अब चिदम्बरम ने खुद मांगी सीबीआई रिमांड, वजह ये है

0
88

INX Media Case में पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम की रिमांड अवधि शुक्रवार को ख़त्म हो रही है। लेकिन पहले गिरफ्तारी से भाग रहे चिदंबरम ने अपनी सीबीआई रिमांड बढ़ाने की मांग की है। चिदंबरम के वकीलों ने इसके लिए सुप्रीम कोर्ट में अर्जी भी दे दी है। हालांकि सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता(Tushar Mehta) ने इसका विरोध किया है।

कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम की सीबीआई रिमांड खत्म होने के बाद शुक्रवार को उन्हें कोर्ट में पेश किया जाएगा। सुनवाई के दौरान अगर कोर्ट से चिदंबरम को राहत नहीं मिलती है तो उन्हें जेल भी जाना पड़ सकता है। इसलिए चिदंबरम ने अपनी सीबीआई रिमांड (CBI Remand) बढ़ाने की मांग की है। उनके वकीलों ने अपील की है कि सीबीआई रिमांड का मामला 2 सितंबरम को सुप्रीम कोर्ट में सुना जाएगा, इसलिए तब तक उन्हें सीबीआई कस्टडी में ही रखा जाए। हालांकि इसके विरोध में सॉलिसिटर जनरल मेहता ने कहा है कि ये ट्रायल कोर्ट का मामला है। अगर ट्रायल कोर्ट में रिमांड बढ़ाने की अपील दर्ज की जाती है तो हमें कोई भी आपत्ति नहीं है।

सुप्रीम कोर्ट ने CBI रिमांड के खिलाफ चिदंबरम की याचिका पर 2 सितंबर को सुनवाई करने का फैसला किया था। वहीँ ED मामले में सुप्रीम कोर्ट ने चिदंबरम को 5 सितंबर तक गिरफ्तारी से राहत दे दी है। चिदंबरम की अग्रिम ज़मानत को लेकर दिल्ली हाई कोर्ट के फैसले के खिलाफ अपील मामले में सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला 5 सितंबर के लिए सुरक्षित रख लिया है। गौरतलब है कि 22 अगस्त को ट्रायल कोर्ट ने चिदंबरम को सीबीआई रिमांड के लिए भेजा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here