Saturday, March 6, 2021

छत्तीसगढ़ सरकार ने दो वर्ष में 36170 करोड़ रूपए का लिया ऋण

Must read

दिग्विजय दे रहें कमलनाथ के नेतृत्व को चुनौती: नरोत्तम मिश्रा

भोपाल मध्यप्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के प्रदेश में किसान महापंचायतों के आयोजन काे लेकर उन पर तंज...

वासुदेव देवनानी को एक दिन के लिए निलंबित मामले में उपजा गतिरोध समाप्त

जयपुर, राजस्थान विधानसभा में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) विधायक वासुदेव देवनानी को सदन से एक दिन के लिए निलंबित करने के बाद उपजा गतिरोध...

शिवराज के जन्मदिन को सेवा दिवस के रुप में मनाया

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कार्यकर्ताओ और पदाधिकारियों ने आज प्रदेश भर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के जन्मदिन को सेवा दिवस के रूप में...

आलिया के साथ नजर आयेंगे अजय देवगन!

बॉलीवुड के सिंघम स्टार अजय देवगन फिल्म 'गंगूबाई काठियावाड़ी' में आलिया भट्ट के साथ काम करते नजर आयेंगे। बॉलीवुड फिल्मकार संजय लीला भंसाली इन दिनों...

रायपुर, छत्तीसगढ़ में भूपेश सरकार ने सत्ता में आने के बाद पिछले दो वर्षों में भारतीय रिजर्व बैंक समेत विभिन्न वित्तीय संस्थानों से 36170 करोड़ रूपए का ऋण लिया है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज प्रश्नोत्तरकाल में भाजपा के शिवरतन शर्मा के प्रश्न के उत्तर में यह जानकारी दी। शर्मा के ऋण राशि के राजस्व व्यय एवं पूंजीगत मदों में व्यय की जानकारी मांगे पर उन्होने कहा कि ऋण किसी खास मद के लिए नही लिया जाता है। सरकार ऋण लेती है और अपनी बहुत सारी जरूरतों के मद पर उसे व्यय करती है।

ये भी पढ़े- सुधीर कोल्लारा जनता दल (यू) की केरल इकाई के अध्यक्ष नियुक्त

शर्मा द्वारा ऋण के सम्बन्ध में नेता प्रतिपक्ष के आज ही पूछे एक प्रश्न में अलग जानकारी दिए जाने पर सवाल किए जाने पर बघेल ने कहा कि अगर उन्हे ऐसा लगता है तो वह प्रश्न संदर्भ समिति में इसकी शिकायत कर सकते है।इस पर शर्मा ने मुख्यमंत्री पर सदन को गुमराह करने का आरोप लगाया। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने भी प्रश्न संदर्भ समिति में शिकायत के कथन पर आपत्ति की।

शर्मा द्वारा राज्य के लिए तय ऋण सीमा के बारे में पूछे जाने पर श्री बघेल ने कहा कि जीडीपी की तय राशि 25 प्रतिशत है जबकि सरकार ने 20 प्रतिशत तक ही ऋण लिया है।

बघेल ने नेता प्रतिपक्ष धरम कौशिक के इस बारे में पूछे एक अन्य प्रश्न के लिखित उत्तर में बताया कि एक दिसम्बर 2018 को राज्य के ऊपर कुल 41239 करोड़ का ऋण भार था जबकि 29 जनवरी 21 को 70646 करोड़ का ऋण भार था।

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article

महिला अध्यापिका से मारपीट करने वाले अभिभावक को जेल

मुजफ्फरनगर में एक व्यक्ति को प्राथमिक विद्यालय की अध्यापिका के साथ अभद्रता करना भारी पड़ गया जिसके चलते पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर...

शिवराज के जन्मदिन को सेवा दिवस के रुप में मनाया

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कार्यकर्ताओ और पदाधिकारियों ने आज प्रदेश भर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के जन्मदिन को सेवा दिवस के रूप में...

राज गोपाल सिंह वर्मा को प0 महावीर प्रसाद द्विवेदी पुरस्कार दिया जायेगा

उत्तर प्रदेश ‘राज्य कर्मचारी साहित्य संस्थान’ द्वारा पुरस्कार समिति की संस्तुति के आधार पर सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग के पूर्व उपनिदेशक राज...

अवैध तरीकें से संचालित निजी अस्पताल

भदोही जिले से है जहां अवैध तरीके से संचालित हो रहे एक निजी अस्पताल में प्रसूता के नवजात बच्चे की मौत हो गई है...