Saturday, March 6, 2021

स्वास्थ्य विभाग का विरोध प्रदर्शन जारी, जानिए क्यों

Must read

जानिए कैसे हुए वकील गिरफ्तार

केन्द्रीय वस्तु और सेवा कर (सीजीएसटी) आयुक्तालय, पूर्वी दिल्ली ने काल्पनिक फर्मों के एक नेटवर्क का खुलासा किया है, जिनका इस्तेमाल संचालक द्वारा वस्तु...

पुलिस का बड़ा खुलासा,वाहन चोर को ऐसे किया गिरफ्तार

नोएडा के सेक्टर 24 थाना पुलिस का बड़ा खुलासा, 25 हजार का अंतरराज्य वाहन चोर गिरफ्तार, आरोपी वाहिद गाड़ियों का डॉक्टर कहा जाता हैं,...

बलिया, बेसिक कार्यालय के समीप तहसीली स्कुल कैम्पस में लगी आग, मचा हड़कंप

ब्रेकिंग बलिया -------- बलिया से बड़ी ख़बर -------- बेसिक कार्यालय के समीप तहसीली स्कुल कैम्पस में लगी आग। आग लगने कुछ देर बाद पहुँचे अध्यापक। अध्यापकों ने बच्चों...

नायडू ने नन्द कुमार के निधन पर जताया शोक

दिल्ली ,  उप राष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने लोकसभा सांसद नन्दकुमार सिंह चौहान के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। नायडू ने मंगलवार को...

उत्तर प्रदेश के बांदा में विगत 19 फरवरी से राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद उत्तर प्रदेश शाखा के आवाहन पर स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों के द्वारा अपना विरोध प्रदर्शन जताने का काम किया जा रहा है कर्मचारियों के द्वारा विरोध जताते हुए प्रतिदिन सुबह काली पट्टी बांधकर नारेबाजी की जाती है और अपनी मांगों को लेकर सरकार से गुहार लगाने का काम किया जाता है स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों ने पूरी जानकारी देते हुए बताया कि हम लोगों का यह विरोध प्रदर्शन बीते 19 फरवरी से चल रहा है और यह प्रदर्शन 27 फरवरी तक चलेगा इसके बाद 28 फरवरी से लेकर 17 मार्च तक हम लोगों के द्वारा गेट मीटिंग है करने का दौर चलेगा जिसमें सभी कर्मचारी गेट पर बैठकर ही अपना काम करेंगे इसके बाद 18 मार्च को हम लोगों के द्वारा एक दिवसीय धरना प्रदर्शन करते हुए उपवास रखने का भी काम किया जाएगा प्रदर्शन के दौरान मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी के माध्यम से सौंपने का काम किया जाएगा जब हम लोगों ने कर्मचारी से यह पूछा कि आप लोग किस बात को लेकर के विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें-रविदास जयंती को लेकर सहारनपुर पुलिस ने किया ये काम, जानिए

तो उन्होंने बताया कि हम लोगों की मांग लिया है कि पुरानी पेंशन को बहाल किया जाए आउटसोर्सिंग संविदा कर्मचारियों को नियमित किया जाए और कैडर के हिसाब से रिक्त पदों की भर्तियां की जाएं कुल मिलाकर हमारी 18 सूत्री मांगे हैं जिसमें से 9 सह मांग पत्र है जो कि पूर्व के शामिल हैं जिसमें विगत मुख्य सचिव के द्वारा लिखित समझौता हुआ था लेकिन उसके बाद भी अभी तक हमारी मांगे नहीं मानी गई इसीलिए हम लोग यह प्रदर्शन कर रहे हैं और यदि हम लोगों की मांगे नहीं मानी जाती तो यह प्रदर्शन आगे भी जारी रहेगा।

 

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article

महिला अध्यापिका से मारपीट करने वाले अभिभावक को जेल

मुजफ्फरनगर में एक व्यक्ति को प्राथमिक विद्यालय की अध्यापिका के साथ अभद्रता करना भारी पड़ गया जिसके चलते पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर...

शिवराज के जन्मदिन को सेवा दिवस के रुप में मनाया

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कार्यकर्ताओ और पदाधिकारियों ने आज प्रदेश भर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के जन्मदिन को सेवा दिवस के रूप में...

राज गोपाल सिंह वर्मा को प0 महावीर प्रसाद द्विवेदी पुरस्कार दिया जायेगा

उत्तर प्रदेश ‘राज्य कर्मचारी साहित्य संस्थान’ द्वारा पुरस्कार समिति की संस्तुति के आधार पर सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग के पूर्व उपनिदेशक राज...

अवैध तरीकें से संचालित निजी अस्पताल

भदोही जिले से है जहां अवैध तरीके से संचालित हो रहे एक निजी अस्पताल में प्रसूता के नवजात बच्चे की मौत हो गई है...