शेहला रशीद के खिलाफ दर्ज हुआ देशद्रोह का मुकदमा, सेना के नाम पर कर रही थी झूठ का कारोबार

0
53

जेएनयू(JNU) की पूर्व छात्रा जेएनयू के स्टूडेंट्स यूनियन की पूर्व उपाध्यक्ष शेहला रशीद(Shehla Rashid) पर अब राष्ट्रद्रोह का आरोप लगा है। शेहला पर सेना के खिलाफ भ्रम फैलाने के आरोप में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। शेहला ने ट्विटर पर भारतीय सेना(Indian Armi) के खिलाफ कश्मीर(kashmir) में अत्याचार करने के आरोप लगाए थे। इन आरोपों को भारतीय सेना द्वारा झूठा करार करने के बाद दिल्ली पुलिस(Delhi Police) की स्पेशल सेल(Special Cell) ने शुक्रवार दोपहर शेहला के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा दर्ज किया है।

18 अगस्त को जेनएनयूएसयू की पूर्व उपाध्यक्ष शेहला रशीद ने कश्मीर की हालत को लेकर सिलसिलेवार ढंग से 10 ट्वीट किए थे। उन्होंने दावा किया था कि कश्मीर में धारा 370 हटने के बाद हालात बद-से-बदतर होते जा रहे हैं। शेहला रशीद ने लिखा था कि जम्मू कश्मीर के लोगों ने उन्हें बताया है कि पुलिस के पास कानून-व्यवस्था का कोई अधिकारी मौजूद नहीं है। एक ट्वीट में उन्होंने लिखा कि इस समय कश्मीर पर पैरामिलिट्री फाॅर्स का कब्ज़ा है। एक एसएचओ का ट्रांसफर केवल इसलिए कर दिया गया क्योंकि उसकी एक सीआरपीएफ के जवान ने शिकायत कर दी थी। इतना ही नहीं शेहला ने अपने ट्वीट पर आरोप लगाया कि सुरक्षाबल रात में घरों में घुसकर लड़कों को उठाकर ले जाते हैं। एक अन्य ट्वीट में रशीद ने लिखा कि शोपिया के आर्मी कैंप में 4 लोगों को बुलाकर पूछताछ के बहाने उनके साथ मारपीट की गई। रशीद के मुताबिक इस मारपीट के दौरान उन चारों के पास माइक रखा गया ताकि उनकी चीखों से माहौल में दहशत फैलाई जा सके।

इन सभी आरोपों को भारतीय सेना ने सिरे से झूठा करार दिया था। इसके बाद अब दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने शुक्रवार दोपहर कश्मीरी नेता शेहला के खिलाफ देशद्रोह(Sedition) का मामला दर्ज किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here