एनआरसी पर मचे घमासान के बीच अक्टूबर में आएंगी शेख हसीना, होगी ये अहम बात

0
88

तीस्ता जल बंटवारा संधि सहित विभिन्न अनसुलझे मुद्दों पर बातचीत के इरादे से बंग्लाश की प्रधानमंत्री शेख हसीना अक्टूबर में भारत दौरे पर आएंगी। शेख हसीना ने इन मुद्दों पर भारत दौरे में सकारात्मक परिणाम की उम्मीद जताई है। उन्होंने कहा है कि दौरा भारत और बांग्लादेश के बीच अच्छे रिश्तों को बेहतरीन बनाने और दोनों देशों के विकास में सहायक होगा।

नई दिल्ली में आयोजित होने वाले विश्व आर्थिक मंच के भारतीय आर्थिक शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए शेख हसीना 3-6 अक्टूबर के लिए भारत आने वाली हैं। इस दौरान शेख हसीना और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच 5 अक्टूबर को द्विपक्षीय बैठक होगी। हसीना ने बताया है कि वह अपनी भारत यात्रा के दौरान तीस्ता समेत दोनों देशों के बीच जल बंटवारे के मुद्दों पर प्रधानमंत्री मोदी से बात करेंगी। उन्होंने जानकारी दी कि बांग्लादेश और भारत पहले ही सुरक्षा, व्यापार, बिजली, ऊर्जा, संचार, विकास सहायता, पर्यावरण और शिक्षा समेत अन्य समझौतों पर हस्ताक्षर कर चुके हैं। उन्होंने कहा कि ‘हमे उम्मीद है कि दोनों देशों के बीच इस यात्रा पर दोनों देशों के बीच अनसुलझे मुद्दों जल्द ही सुलझा लिया जाएगा। मेरी भारत यात्रा से पहले उपरोक्त मुद्दों पर हमें सकारात्मक परिणाम देखने को मिलेंगे।’ शेख हसीना ने कहा है कि भारत और बांग्लादेश के बीच काफी अच्छे सम्बन्ध हैं। उन्होंने कहा कि दोनों देशों के लिए आपसी सहयोग और विकास के नए क्षेत्रों में नए दरवाजे खुले हैं। इसके अलावा, समुद्री रास्ते से व्यापार , परमाणु ऊर्जा के शांतिपूर्ण उपयोग, एयरोस्पेस अनुसंधान और साइबर सुरक्षा सहित अन्य क्षेत्र में सहयोग बढ़ा है।

गौरतलब है कि शेख हसीना ने तीस्ता समझौते पर हस्ताक्षर करने के लिए कहा है कि उनकी सरकार के कूटनीतिक प्रयास चल रहे हैं। इस मुद्दे को दोनों देशों के उच्चतम राजनीतिक स्तरों के समक्ष रखा जा रहा है। आपको बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी ने अपनी पिछली बांग्लादेश यात्रा में आश्वासन दिया था कि भारत सरकार तीस्ता जल बंटवारे मुद्दे से जुड़े राज्यों की सरकार के साथ हल निकलेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here