यूपी के सभी सरकारी स्कूलों में अनिवार्य हुआ पीएम मोदी का ड्रीम प्रोजेक्ट

0
83

उत्तर प्रदेश के सरकारी स्कूलों में अब सुबह की प्रार्थना के साथ योग भी अनिवार्य होगा। प्रदेश के नवनियुक्त शिक्षा राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) सतीश द्विवेदी ने प्रभार संभालते ही यूपी के सभी सरकारी स्कूलों में योग अनिवार्य कर दिया है। सोमवार सुबह विभाग की हुई पहली बैठक में शिक्षा राजयमंत्री ने ये फरमान जारी किया है।

मंत्री सतीश द्विवेदी ने अधिकारियों से कहा है कि वे इस बात को सुनिश्चित कराएं कि सभी सरकारी प्राइमरी स्कूलों में सुबह होने वाली प्रार्थना सभा के दौरान 15 मिनट का योग सत्र भी हो। इतना ही नहीं स्कूल खत्म होने से पहले 15 मिनट की पीटी क्लास भी हुआ करेगी। इससे प्रदेश के करीब डेढ़ लाख सरकारी प्राइमरी स्कूलों में पढ़ने वाले करीब डेढ़ करोड़ बच्चे दिन में योग करने का महत्व समझ पाएंगे। इसके साथ ही मंत्री ने हाल ही में मिर्जापुर-शीयुर के एक प्राथमिक स्कूल में छात्रों को मिड डे मील में नमक रोटी परोसे जाने के मामले पर कड़ी कार्यवाई करने के आदेश दिए हैं। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया कि सभी स्कूलों में मिड डे मील की गुणवत्ता की जांच के लिए उड़नदस्ते (फ्लाइंग स्‍क्‍वॉड) का गठन करे। इन उड़नदस्तों की मदद से स्कूलों में मिड डे मील, किताबें, जूते-मोज़े, स्कूल बैग और यूनिफार्म की जांच भी की जाएगी।

शिक्षा राज्यमंत्री ने वर्ष 2022 तक सभी स्कूलों के थर्ड पार्टी ऑडिट के लिए भी एक्शन प्लान तलब किया है। इससे प्रदेश के सरकारी स्कूलों की स्थिति में सुधार होने की संभावना है। गौरतलब है कि बैठक में अपर मुख्य सचिव रेणुका कुमार, सचिव मनीषा त्रिघतिया, राज्य परियोजना निदेशक विजय किरण आनंद और निदेशक सत्येंद्र विक्रम सिंह की मौजूदगी में कई मुद्दों पर चर्चा हुई। इनमे विभाग में रिक्त पदों, न्यायालय में विचाराधीन भर्तियां, कोर्ट केस और तबादलों के मुद्दे शामिल थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here