जानलेवा हमले के आरोप पर उत्तराखंड में ‘श्रीनगर’ के पुलिसकर्मियों पर एफआईआर

0
49

श्रीनगर में पुलिस के डर से एक परिवार को अपना घर ही नहीं शहर छोड़ना पड़ा जिसके बाद उन पुलिस कर्मचारियों पर मुकदमा दर्ज किया गया है। कोतवाल नरेन्द्र बिष्ट, महिला एसआई संध्या नेगी कई आरोपी पुलिस अधिकारियों और जवानों के खिलाफ उत्तराखंड पुलिस ने शिकायत दर्ज की है। हाईकोर्ट में दाखिल रिपोर्ट में पुलिस ने कहा है कि इस मामले को पौड़ी से टिहरी भेजा गया है और कीर्तिनगर थाना इस मामले की जांच करेगा। अब पुलिस एक महीने बाद मामले की प्रोग्रेस रिपोर्ट पेश करेगी।

मामला उत्तराखंड के श्रीनगर, गढ़वाल इलाके का है। हाईकोर्ट में प्रेक्टिस करने वाले वकील राकेश कुंवर ने हाईकोर्ट में याचिका दायर कर पुलिस पर आरोप लगाया था कि 9 जुलाई को पुलिकर्मियों ने रात में उनके घर में घुसकर जानलेवा हमला किया। उनके परिवार के लोगों को जमकर पीटा गया और तोड़-फोड़ कर नगदी लूट ली गई। याचिका में यह भी कहा गया था कि पुलिस की मार से उनके भाई की हालत गंभीर हो गई थी। वकील राकेश कुंवर के अनुसार उन्होंने इस मामले की शिकायत पौड़ी के एसएसपी को भी की थी लेकिन वहां कोई कार्रवाई नहीं की गई। इसके बाद उन्होंने हाईकोर्ट का रुख किया था। पुलिस के धमकाने के बाद कुंवर के परिवार का श्रीनगर छोड़ना पड़ा था। इस मामले पर पुलिस के खिलाफ हथियारों के साथ लूट, स्त्री की लज्जा भंग करना, बिना बताए जबरन घर में घुसना, मारपीट समेत अन्य मामलों में मुक़दमा दर्ज किया गया है।

कुछ दिन पहले एकलपीठ ने इस मामले में 24 घंटे के भीतर एफ़आईआर दर्ज करने के साथ शपथ पत्र दाखिल करने के आदेश दिया था लेकिन एसएसपी पौड़ी ने कोर्ट के आदेश के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं नहीं की थी। पिछले हफ्ते कोर्ट ने फिर से दो दिन में मुकदमा दर्ज करने और कोर्ट में उसकी रिपोर्ट पेश करने का आदेश दिया था। बीती पेशी में पुलिस द्वारा रिपोर्ट मिलने पर कोर्ट ने पुलिस को एक महीने में इस मामले की प्रोग्रेस रिपोर्ट देने का आदेश दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here