रियो वर्ल्ड कप में गोल्ड जीतने वाली यशस्विनी ने अपनी तैयारियों को लेकर यूँ चौंकाया

0
94

हाल ही में ब्राज़ील के रियो वर्ल्डकप में स्वर्ण पदक(Gold Medal) जीतने वाली निशानेबाज़ यशस्विनी सिंह देसवाल(Yashaswini Singh Deswal) ने आने वाले समय में अपनी कुछ चीज़ो में सुधार की बात कही है। उन्होंने माना कि उन्हें अगले साल ओलिंपिक खेलों में सफलता हासिल करने के लिए अपनी कुछ कमियों को ठीक करना होगा। उन्होंने रियो वर्ल्डकप में महिलाओं की 10 मीटर एयर पिस्टल में गोल्ड मेडल जीतकर भारत को नौंवा ओलिंपिक कोटा दिलाया है।

यशस्विनी ने आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान कहा, ‘मेडल जीतकर और कोटा हासिल करके काफी खुश हूं। मेरी कड़ी मेहतन का अंत में नतीजा मिला। मेरे लिए यह पदक आश्वस्त करता है कि मैं सही दिशा में आगे बढ़ रही हूं। यह मेडल मुझे सही समय पर मिला, मुझे इसकी जरूरत थी।’ उन्होंने कहा, ‘मेडल जीतने के बाद अब मेरी असली यात्रा शुरू हो गई है और यह ओलिंपिक कोटा जीतने जितनी ही अहम होगी। प्रतिस्पर्धा कैसी भी हो, हर शॉट महत्वपूर्ण है और मुझे सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा।’ इसके आगे उन्होंने कहा कि, ‘तकनीकी रूप से मुझे कोई बड़ा सांमजस्य नहीं बिठाना होगा लेकिन मुझे हर टूर्नामेंट में अपनी शाट टाइमिंग सुधारनी होगी।’

रियो में गोल्ड जीतने वाली दूसरी भारतीय महिला

बता दें कि 22 वर्षीय यशस्विनी सिंह देसवाल ने रियो वर्ल्डकप में स्वर्ण पदक जीत कर अगले साल टोक्यो में होने वाले ओलिंपिक(Olympic 2020 Tokyo) में नौंवा कोटा अपने नाम कर लिया है। पूर्व जूनियर वर्ल्ड चैंपियन ने सत्र के चौथे आईएसएसएफ(ISSF) वर्ल्ड कप के फाइनल में 236.7 अंक जुटाये और शीर्ष निशानेबाज ओलिना कोस्टेविच को पछाड़ दिया। यशस्विनी रियो डी जेनेरियो(Rio de Janeiro) में गोल्ड मेडल जीतने वाली दूसरी भारतीय महिला निशानेबाज थी। इससे पहले इलावेनिल वालारिवान, अपूर्वी और अंजलि भागवत भी ये कारनामा कर चुकी हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here