इस तरह दी जाएगी बीजेपी के शलाका पुरुष अरुण जेटली को अंतिम विदाई

0
86

पूर्व वित्त मंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली का शनिवार दोपहर 12 बजे निधन हो गया। दिल्ली के AIIMS अस्पताल में उन्होंने अपने आखिरी कुछ दिन बिताए थे। पिछले कुछ दिनों से उन्हें लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया था। जन्माष्टमी की दोपहर उन्होंने अपनी आखिरी सांसें ली।

जेटली के पार्थिव शरीर को श्रद्धांजलि के लिए उनके कैलाश कॉलोनी स्थित आवास पर लाया गया है। केंद्रीय मंत्री डॉ. हर्षवर्धन, गृहमंत्री अमित शाह, वसुंधरा राजे, और दूसरे बीजेपी के तमाम नेता उन्हें श्रद्धांजलि देने उनके घर पहुंच चुके हैं। कल सुबह 10 बजे उनके शव को बीजेपी के मुख्यालय ले जाया जाएगा। वहां उन्हें बीजेपी कार्यकर्ताओ द्वारा श्रद्धांजलि दी जाएगी। इसके बाद दोपहर 2 बजे बीजेपी मुख्यालय से निगमबोध घाट तक इनकी अंतिम यात्रा निकलेगी। दोपहर 3 बजे निगमबोध घाट में जेटली का अंतिम संस्कार होगा।

लंबे समय से बीमार जेटली

गौरतलब है कि जेटली लंबे समय से बीमार चल रहे थे। बीते वर्ष मई में किडनी ट्रांसप्लांट के बाद उन्हें दाएं पैर में टिश्यू कैंसर की समस्या हुई थी। उसकी सर्जरी के लिए अरुण जेटली इस साल की शुरुआत में अमरीका गए थे। कुछ समय से ज़्यादा तबियत ख़राब होने की वजह से उन्हें AIIMS में भर्ती कराया गया था। वहां उनसे मिलने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन और रेल मंत्री पीयूष गोयल सहित कई लोग मिलने पहुंचे थे। वहीं राजनीती में कई बार जेटली पर आरोप लगाने वाले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल भी उनसे मिलने अस्पताल पहुंचे थे। उनके निधन पर भी केजरीवाल ने गहरा शोक जताया। 2 सप्ताह पहले पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के निधन पर अरुण जेटली ने शोक जताया था। वहीं अब उनके निधन को गृहमंत्री अमित शाह ने व्यक्तिगत क्षति बताया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here