शिवसेना को चार और विधायकों का समर्थन, अब हुए 60, बीजेपी को चुनौती

0
48

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव 2019 के पूरे दौर में किसी न किसी मुद्दे पर लड़ रही बीजेपी और शिवसेना के बीच एक बार फिर खींचतान शुरू हो गई है । चुनावो के परिणाम आने के बाद अब सत्ता की स्थापना करने के लिए दोनों पार्टियों में टकराव चल रहा है । जहां अच्छे स्ट्राइक रेट का हवाला देते हुए देवेंद्र फडणवीस आने वाले 5 साल बीजेपी का ही मुख्यमंत्री होने की बात कर रहे हैं, वहीं शिवसेना 50-50 फॉर्मूला के तहत ढाई साल के लिए आदित्य ठाकरे को सीएम पद दिलाने के लिए अड़ी हुई है । ऐसे में शिवसेना के रन रेट को बढ़ाने के लिए रविवार को चार विधायकों ने शिवसेना को समर्थन दे दिया । इससे शिवसेना के पास 60 विधायक हो गए हैं ।

प्रहार जनशक्ति पार्टी (PJP) के अचलपुर विधानसभा क्षेत्र के विधायक ओमप्रकाश बाबाराव कडू (Om prakash Babarao Kadu) उर्फ बच्चू कडू और मेलघाट के विधायक राजकुमार पटेल ने रविवार को उद्धव ठाकरे से मुलाकात की । इस मुलाकात के बाद दोनों विधायको ने शिवसेना को अपना समर्थन दे दिया । इससे पहले रामटेक के निर्दलीय विधायक आशीष जायसवाल और भंडारा के निर्दलीय विधायक नरेंद्र भोंदेकार ने भी शिवसेना को समर्थन देने की घोषणा की । ऐसे में 60 सीटों के साथ शिवसेना बीजेपी से बराबरी की मांग कर रही है ।

गौरतलब है कि विधानसभा चुनावों से पहले से ही शिवसेना बराबरी की मांग कर रही है । चुनावो से पहले बराबर सीट शेयरिंग की मांग कर रही थी । अब शिवसेना आदित्य को ढाई साल के लिए मुख्यमंत्री बनाने का समझौता चाहती है । जानकारी के अनुसार, 30 अक्टूबर को अमित शाह मुंबई आएंगे और इस मुद्दे को लेकर उद्धव ठाकरे से मुलाकात करेंगे । ऐसे में शिवसेना के विधायकों में बढ़त उसकी ताकत में बढ़त मानी जा सकती है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here