Sunday, November 29, 2020

पुष्कर पहुंचे संघ प्रमुख से पुजारियों ने कर दी सबसे विवादास्पद मांग

Must read

उत्तराखंड : मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र ने किया सूर्याधार जलाशय का लोकार्पण

देहरादून : मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने रविवार को स्वर्गीय गजेन्द्र दत्त नैथानी जलाशय सूर्याधार का लोकार्पण किया। इस झील के निर्माण पर 50.25...

Breaking news : कोरोना पर PM के साथ बैठक के दौरान ममता ने GST पर कर डाले तीखे सवाल…

  कोरोना संकट पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में हुई बैठक में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने GST बकाये का मुद्दा उठाया...

मुंबई 26/11 Attack : मुंबई का काला दिन, जानें क्या हुआ था उस दिन…

मुंबई में 26 नवंबर 2008 को हुए आतंकी हमले की आज 11वीं बरसी है। इस हादसे ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया था।...

सनसनी नहीं, देश में जो कुछ अच्छा हो रहा है वह भी खबर है : प्रकाश जावड़ेकर

नई दिल्ली : केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने पत्रकारिता के छात्रों को अनावश्यक सनसनी और टीआरपी केंद्रित पत्रकारिता से बचने की...

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के अखिल भारतीय समन्वय बैठक और प्रतिनिधिमंडल की बैठक के लिए सरसंघचालक मोहन भागवत (Mohan Bhagwat) पुष्कर पहुंचे हैं। पुष्कर (Pushkar) के पुरोहितों ने सरोवर घाट पर मोहन भागवत की पूजा अर्चना करवाई। मोहन भागवत से पुष्कर के पुरोहितों ने पूजा के बाद दक्षिणा में देश से आरक्षण (Reservation) समाप्त करने की मांग की।

सरसंघचालक मोहन भागवत (Mohan Bhagwat) आरएसएस (RSS) की अखिल भारतीय समन्वय बैठक में भाग लेने के लिए मंगलवार की शाम पुष्कर पहुंचे। पुष्कर (Pushkar) पहुंचकर सरसंघचालक मोहन भागवत ने पवित्र पुष्कर सरोवर की पूजा अर्चना की। पूजा अर्चना में पुष्कर के तीर्थ पुरोहितों ने पूजा अर्चना खत्म होते ही मोहन भागवत से पूरे देश में आरक्षण समाप्त करने की मांग की।

मोहन भागवत 3 सितंबर से 11 सितंबर तक पुष्कर में रहेंगे

संरसंघचालक मोहन भागवत 3 सितंबर से 11 सितंबर तक पुष्कर में रहेंगे। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की तीन दिवसीय अखिल भारतीय समन्वय बैठक 7 सितंबर से शुरू होगी। बैठक में शामिल होने के लिए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक के पुष्कर पहुंचने पर जगद्गुरु श्रीश्री महाराज श्याम शरण देवाचार्य जी महाराज और गिरधर गोपाल परशुराम के मंदिर में पूजा की। इसके बाद मंदिर में मोहन भागवत का माला पहनाकर स्वागत भी किया।

भागवत ने जगद्गुरु श्री निंबार्काचार्य महाराज से धर्म पर भी चर्चा की

पुष्कर की पूजा अर्चना के बाद मोहन भागवत ने जगद्गुरु श्री निंबार्काचार्य महाराज से धर्म पर भी चर्चा की। भागवत 11 सितंबर तक पुष्कर में ही रहेंगे। इस दौरान वे विभिन्न स्तर पर होने वाली बैठकों में शामिल होंगे। अखिल भारतीय समन्वय बैठक 7 सितंबर से शुरू होकर 9 सितम्बर तक चलेगी। बैठक में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय कार्यकारिणी के सदस्य और समाज जीवन के विविध क्षेत्रों (सामाजिक, धार्मिक, आर्थिक, शिक्षा, सेवा) में काम करने वाले तीन दर्जन संगठनों के करीब 200 अखिल भारतीय पदाधिकारी शामिल होंगे।

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article

राज्यसभा उपचुनाव : सुशील मोदी 2 दिसंबर को करेंगे नामांकन, RJD के उम्मीदवार पर सस्पेंस

बिहार की एक राज्यसभा सीट के लिए हो रहे उपचुनाव में मतदान होगा या नहीं इस पर से सस्पेंस खत्म नहीं हो रहा है।...

CM नीतीश पर अमर्यादित टिप्पणी से नाराज JDU कार्यकर्ताओं ने तेजस्वी का पूतला फूंका

मुज़फ़्फ़रपुर ; विधानसभा में  नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव द्वारा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के ऊपर अभद्र टिप्पणी करने को लेकर पूरे बिहार में जगह जगह...

मुज़फ़्फ़रपुर में हाईवे पर लूटपाट करने वाले गिरोह का पर्दाफाश, 5 किलो गांजा और हथियार के साथ 5 अपराधी गिरफ्तार

  मुज़फ़्फ़रपुर : जिले के गायघाट पुलिस ने हाइवे लूटपाट गिरोह के पांच सदस्यों को हथियार व लूट के समान के साथ पकड़ा और इस...

उत्तराखंड : मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र ने किया सूर्याधार जलाशय का लोकार्पण

देहरादून : मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने रविवार को स्वर्गीय गजेन्द्र दत्त नैथानी जलाशय सूर्याधार का लोकार्पण किया। इस झील के निर्माण पर 50.25...

Uttarakhand: 389 नए संक्रमित संक्रमित मिले, आठ की मौत, मरीजों की संख्या 74 हजार पार

देहरादून : उत्तराखंड में पिछले 24 घंटे के दौरान 389 नए मामलों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव प्राप्त हुई और 278 मरीज स्वस्थ होने...