पीएम के मन की बात में तम्बाकू और प्लास्टिक पर करारा घात

0
58

सितम्बर के आखिरी रविवार की सुबह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ के ज़रिए देशवासियों को सम्बोधित किया। इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने देशवासियों को नवरात्रि समेत अन्य त्योहारों की बधाई दी। उन्होंने 150वीं गांधी जयंती को विशेष बनाने, सिंगल यूज प्लास्टिक से देश को मुक्त कराने की अपील की। इसके साथ ही उन्होंने खासतौर पर देश के युवाओं से ई-सिगरेट के खतरे को लेकर चर्चा की।

प्रधानमंत्री मोदी ने ‘मन की बात’ में तंबाकू का जिक्र करते हुए लोगों से नशे से दूर रहने की अपील की है। पीएम मोदी ने कहा कि तंबाकू से दिमाग का विकास प्रभावित होता है। इस लत से कैंसर, डायबिटीज, ब्लड प्रेशर से जुड़ी बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है। इसलिए इससे बचने की कोशिश करनी चाहिए। पीएम मोदी ने कहा कि हाल ही में ई-सिगरेट पर प्रतिबंध लगाया गया है क्योंकि इसमें भी नुकसानदायक केमिकल होते हैं। उन्होंने कहा कि लोगों को इ-सिगरेट के नुकसान की जानकारी नहीं है।

ई-सिगरेट पर भी की चर्चा

उन्होंने बताया कि आखिर कैसे पूरी दुनिया में ई-सिगरेट के नाम पर युवा गुमराह हो रहे हैं। मोदी ने कहा कि ई-सिगरेट के बारे में गलत धारणा पैदा की गई है कि इससे कोई खतरा नहीं है। जबकि सामान्य सिगरेट से अलग ई-सिगरेट में निकोटिन युक्त तरल पदार्थ को गर्म करने से एक प्रकार का केमिकल युक्त धुंआ बनता है जो सेहत के लिए हानिकारक है। उन्होंने कहा कि युवा सिगरेट की लत को छोड़ने के लिए ई-सिगरेट का सहारा लेने लगे हैं, जबकि ई-सिगरेट भी स्वास्थ्य के लिए उतनी ही खतरनाक है। उन्होंने युवाओं से ई-सिगरेट से दूर रहने का आग्रह किया।

प्लास्टिक का इस्तेमाल न करने की अपील

प्रधानमंत्री मोदी ने अपने मन की बात कार्यक्रम में सिंगल यूज़ प्लास्टिक का इस्तेमाल न करने का अनुग्रह किया। उन्होंने देशवासियों से आने वाले दो अक्टूबर को सिंगल यूज प्लास्टिक से मुक्ति के लिए शुरू होने वाले अभियान में शामिल होने का आग्रह किया। पीएम मोदी ने कहा कि बापू की 150वीं जयंती पर स्वच्छता का संकल्प लें और सिंगल यूज प्लास्टिक से आजादी का संकल्प लें।

इस बार ‘चिराग तले रौशनी’

रेडियो कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री ने देशवासियों को आने वाले त्योहारों की ढेर सारी शुभकानाएं दी। साथ ही उन्होंने देश का अँधेरा मिटाने की बात कही। उन्होंने कहा कि त्योहारों में घर खुशियों से भरे होंगे लेकिन आपने देखा होगा कि हमारे आस-पास भी बहुत सारे ऐसे लोग हैं जो इन त्योहारों की खुशियों से वंचित रह जाते हैं इसी को तो कहते हैं ‘चिराग तले अंधेरा’। पीएम मोदी ने कहा कि एक तरफ कुछ घर रोशनी से जगमगाते हैं, तो वहीं दूसरी तरफ, उसी के सामने कुछ लोगों के घरों में अंधेरा छाया होता है। मोदी ने कहा कि क्या इस बार, त्योहारों के इस सीजन में, पूरी जागरूकता और संकल्प के साथ इस चिराग तले अंधेरे को मिटा सकते हैं? उन्होंने लोगों से इस अँधेरे को मिटाने के लिए कदम उठाने की अपील की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here