भारी बारिश से बिहार हुआ अस्त व्यस्त, तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार पर किया जमकर वार

0
276

बिहार में भारी बारिश के बाद कई इलाकों में सड़कों और घरों से लेकर अस्पतालों तक में पानी भर गया है। बिहार में लोगों का जीवन भरी बारिश के चलते ठहर गया है। इसको लेकर राजद नेता तेजस्वी यादव ने नीतीश सरकार पर निशाना साधा है। तेजस्वी यादव ने कहा कि बिहार में चंद घंटो की बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त और प्रशासनिक व्यवस्था ध्वस्त है। अस्पतालों में मछलियों के साथ सुशासनी निश्चय, वादे और दावे तैर रहे हैं।

भारी बारिश को लेकर तेजस्वी यादव ने सिलसिलेवार कई ट्वीट कर नितीश सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि “बिहार में चंद घंटो की बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त और प्रशासनिक व्यवस्था ध्वस्त है। घर, स्कूल, अस्पताल, कार्यालय, दुकान, शोरूम, बाजार, गली-मोहल्लों में हर तरफ नालों का 4-5 फुट तक गंदा पानी जमा है। अस्पतालों में मछलियों के साथ सुशासनी निश्चय, वादे और दावे तैर रहे हैं।” उन्होंने मुख्यमंत्री पर धावा बोलते हुए लिखा “मुख्यमंत्री नीतीश जी बतायें, क्या बिहार में चंद घंटो की बारिश को भी आपदा मान लेना चाहिए? चूहों पर बाढ़ का दोषारोपण एवं खोखले सुशासनी दावों वाली सरकार ने राज्यवासियों को नरकीय स्थिति में पहुँचा दिया है। पूरा देश नग्न आँखों से नीतीश जी का स्वयं घोषित सुशासनी विकास देख रहा है।”

चूहों, प्रकृति और विपक्ष पर दोष मढ़ने वाली सरकार

तेजस्वी यादव ने अगले ट्वीट में लिखा कि “नीतीश जी और सुशील मोदी सिर्फ़ कोरी बातें बनाकर, विपक्ष को गाली देकर, खोखली राजनीतिक बयानबाजी कर अपनी जवाबदेही का इतिश्री कर लेते है।” नीतीश सरकार केंद्र से माँग करे कि हमारी 15 वर्ष की स्वयंभू सुशासनी सरकार का ढाँचागत काग़ज़ी विकास चंद घंटो की बारिश में गल जाता है इसलिए बिहार में हुई इस बारिश को ही राष्ट्रीय आपदा घोषित कर दीजिए ताकि हम अपने जनादेश चुराने वाले दाग़दार चेहरे को और अधिक दाग़दार होने से बचा सके। उन्होंने लिखा कि “हर प्रशासनिक विफलता का दोष चूहों, प्रकृति और विपक्ष पर मढ़ने वाली भ्रष्ट नीतीश सरकार की अवसंरचनात्मक नीतियाँ सिर्फ बनावटी और ज़ुबानी ख़र्च है।”

विश्वासघाती नितीश सरकार : तेजस्वी यादव

उन्होंने आगे लिखा कि “नीतीश सरकार केंद्र से माँग करे कि हमारी 15 वर्ष की स्वयंभू सुशासनी सरकार का ढाँचागत काग़ज़ी विकास चंद घंटो की बारिश में गल जाता है। इसलिए बिहार में हुई इस बारिश को ही राष्ट्रीय आपदा घोषित कर दीजिए ताकि हम अपने जनादेश चुराने वाले दाग़दार चेहरे को और अधिक दाग़दार होने से बचा सके।” उन्होंने अपने ट्वीट से लोगों से कहा कि “साथियों, आप हमसे प्यार करे या नफ़रत, समर्थन करे या विरोध लेकिन हमेशा आपको मुश्किल में डालने वाली विश्वासघाती नीतीश सरकार से सवाल-जवाब अवश्य करे।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here