राहुल जा रहे कश्मीर, प्रशासन ने कहा “नो एंट्री प्लीज”

0
72

कश्मीर से आर्टिकल 370(Article 370) हटने के बाद कांग्रेस नेता गुलाम नबी आज़ाद और गुलाम अहमद नबी श्रीनगर का दौरा करने गए थे। लेकिन उन्हें श्रीनगर एयरपोर्ट से ही वापिस दिल्ली भेज दिया गया था। सुरक्षा पाबंदियों का हवाला देकर उन्हें कश्मीर में बिना कदम रखे वापिस भेज दिया गया था। अब 2 हफ्ते बाद आज़ाद फिर एक बार कश्मीर दौरे के लिए रवाना हुए हैं। इस बार उनके साथ कांग्रेस नेता राहुल गाँधी समेत दूसरे कई नेता भी मौजूद हैं।

पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व में विपक्षी दलों का एक प्रतिनिधिमंडल आज जम्मू-कश्मीर जा रहा है। कुल 11 विपक्षी नेताओ का यह प्रतिनिधिमंडल वहां के लोगों और पार्टी नेताओं से मुलाकात करेगा। इस प्रतिनिधिमंडल में कांग्रेस नेता राहुल गाँधी, गुलाम नबी आज़ाद, सीपीआई के डी राजा, माकपा के सीताराम येचुरी, डीएम रे टी शिवा, एनसीपी के माजिद मेमन, आरजेडी के मनोज झा शामिल हैं। बसपा और सपा इस प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा नहीं हैं। सभी दिल्ली से हवाई जहाज़ में बैठकर श्रीनगर के लिए रवाना हो चुके हैं। हालाँकि जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने कहा है कि विपक्षी नेता कश्मीर ना आएं और सहयोग करें। उनका कहना है कि नेताओं के दौरे से सुरक्षाकार्य में असुविधा होगी।

आपको बता दें इससे पहले राहुल गाँधी के कश्मीर की स्थिति को लेकर चिंताजनक ट्वीट पर कश्मीर के राजयपाल सत्यपाल मलिक ने राहुल गांधी को कश्मीर आने का न्योता दिया था। उन्होंने कहा था कि “मैंने राहुल गांधी को यहां आने के लिए आमंत्रित किया है। मैं आपको एक विमान भेजूंगा ताकि आप स्थिति का निरीक्षण कर सकें और फिर बोलूंगा।” उसके कुछ समय बाद राहुल गाँधी ने ट्वीट कर उनका न्योता सहर्ष स्वीकार किया था। इसके साथ ही उन्होंने विमान भेजने से मना कर दिया था। उन्होंने लिखा था,’प्रिय गवर्नर मलिक, आपके विनम्र निमंत्रण पर विपक्षी नेताओं का एक प्रतिनिधिमंडल और मैं आपको जम्मू-कश्मीर और लद्दाख की यात्रा के लिए ले जाऊंगा। हमें विमान की आवश्यकता नहीं होगी, लेकिन कृपया हमें यात्रा करने और वहां के स्थानीय लोग, मुख्यधारा के नेता और वहां तैनात हमारे सैनिकों से मिलने की स्वतंत्रता सुनिश्चित करें।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here