नही रहे अरुण जेटली, शोक संवेदनाओं का तांता लगा

0
81

पूर्व वित्त मंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली का शनिवार दोपहर निधन हो गया। 67 साल की उम्र के जेटली काफी समय से बीमार चल रहे थे। दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान(AIIMS) में उन्होंने आखिरी सांसे ली। AIIMS ने एक बयान जारी कर बताया है कि वे बेहद दुख के साथ सूचित कर रहे हैं कि 24 अगस्त को 12 बजकर 7 मिनट पर माननीय सांसद अरुण जेटली का निधन हो गया। जेटली को 9 अगस्त को एम्स (AIIMS) में भर्ती कराया गया था। एम्स के वरिष्ठ डॉक्टर उनका इलाज कर रहे थे।

बीजेपी के कई नेताओ ने ट्वीट कर जेटली के निधन पर शोक जताया है। पूर्व गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट कर कहा है कि ‘मेरे मित्र और एक अत्यंत मूल्यवान सहयोगी श्री अरुण जेटली जी के निधन से गहरा दुख हुआ। वे पेशे से एक कुशल वकील और जुनून से कुशल राजनीतिज्ञ थे।’ इसके साथ ही उन्होंने लिखा ‘अरुण जेटली जी ने कई क्षमताओं में देश की सेवा की और वे सरकार और पार्टी संगठन के लिए एक संपत्ति थे। वह हमेशा दिन के मुद्दों की गहरी और स्पष्ट समझ रखते थे। उनके ज्ञान और अभिव्यक्ति ने उन्हें कई दोस्तों को जीता।’ इससे आगे ट्वीट कर उन्होंने कहा कि ‘जेटलीजी को हमेशा अर्थव्यवस्था को खिन्नता से बाहर निकालने और सही रास्ते पर वापस लाने के लिए याद किया जाएगा। भाजपा अरुणजी की उपस्थिति को याद करेगी। मैं उनके शोक संतप्त परिवार के प्रति हार्दिक संवेदना व्यक्त करता हूं।’

अरविन्द केजरीवाल ने भी जताया शोक

इसके साथ ही आम आदमी पार्टी के अध्यक्ष और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने भी शोक जताया है। उन्होंने कहा,’पूर्व वित्त मंत्री और वरिष्ठ नेता श्री अरुण जेटली जी का असामयिक निधन राष्ट्र के लिए बहुत बड़ी क्षति है। एक कानूनी चमकदार और एक अनुभवी राजनीतिक नेता जो अपने शासन कौशल के लिए जाना जाता है, देश द्वारा याद किया जाएगा। दुख की इस घड़ी में अपने परिवार के साथ विचार और प्रार्थना। आरआईपी। ‘

अरुण जेटली के निधन का समाचार मिलते ही AIIMS के बाहर उनसे मिलने वालो का ताँता लग गया है। वहीं उनके निधन की खबर के बाद गृहमंत्री अमित शाह हैदराबाद से दिल्ली के लिए रवाना हो गए हैं। बीजेपी और विपक्ष के नेता सहित उनके प्रशंसक ट्वीट कर शोक जाता रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here