Saturday, January 23, 2021

फिर बोले मनमोहन सिंह, अर्थव्यवस्था हो रही है बद से बदतर!

Must read

महिला समूहों को बेहतर बाजार दिलाने शुरू होंगे ‘‘सीजी मार्ट‘‘ – भूपेश बघेल

रायपुर, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गौठानों में महिला समूहों द्वारा तैयार किए जा रहे उत्पादों,वन क्षेत्रों के समूहों द्वारा लघु वनोपज के...

कुशीनगर में अत्याधुनिक बना कसया की नवीन सब्जी मंडी, जानें सुविधाएं

कुशीनगर,  उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में कसया- पडरौना मार्ग स्थित कसया नवीन सब्जी मंडी अब अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस हो चुकी है। सफाई, पेयजल,...

यूजीसी के चेयरमैन ने भारतीय शिक्षा को लेकर कही ये बड़ी बात, जानिए क्या

मथुरा:  मथुरा के जीएलए विश्वविद्यालय, के नौंवे दीक्षांत समारोह में विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) के चेयरमैन प्रो. धीरेन्द्र पाल सिंह ने कहा कि भारतीय...

किसान नेताओं को मारने की साजिश रचने का संदिग्ध हुआ पुलिस के हवाले

किसान संगठनों ने सरकारी एजेंसियों पर आंदोलन कमजोर करने का आरोप लगाया है। सिंघु बॉर्डर पर जमे किसानों ने आज एक शख्स को मीडिया...

भारत की गिरती अर्थव्यवस्था(Economic Slowdown) को लेकर पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह(Manmohan Singh) ने एक बार फिर सरकार पर हमला बोला है। सरकार पर सीधा निशाना लगाते हुए उन्होंने कहा है कि अर्थव्यवस्था बद से बदतर होती जा रही है, और सरकार(BJP Govt.) इसपर आँख बंद किए बैठी है। उन्होंने स्थिति चुनौतीपूर्ण बताया और कहा कि सरकार को ठोस कदम उठाने की ज़रुरत है।

पूर्व प्रधानमंत्री और कांग्रेस नेता मनमोहन सिंह ने भारत की गिरती अर्थव्यवस्था को चिंताजनक बताया है। अर्थशास्त्र ज्ञाता सिंह ने कहा कि हम मंदी के दौर से गुज़र रहे हैं। विकास दर घटकर 5 फीसदी रह गई है। यह हमें 2008 की याद दिलाता है जब हमारी सरकार में अर्थव्यवस्था एक दम से नीचे आ गई थी। हालाँकि उस समय की गिरावट अंतरराष्ट्रीय वित्तीय संकट के कारण हुई थी। वो हमारे सामने एक चुनौतीपूर्ण स्थिति थी जिसे हमने एक अवसर के रूप में लिया और अर्थव्यवस्था को मजबूत करने की तरफ कदम बढ़ाए। आज के समय में भी हम कुछ वैसी ही स्थिति का सामना कर रहे हैं, फिर चाहे वो रियल स्टेट की बात हो या फिर कृषि के क्षेत्र की। प्रत्येक क्षेत्र में दिख रही गिरावट के कारण अर्थव्यवस्था लगातार नीचे जा रही है।

अपनी गलती स्वीकारने की जगह दूसरों पर आरोप लगाती बीजेपी 

ऐसे हालात में मनमोहन सिंह ने सबसे ज़्यादा खतरनाक सरकार की नज़रअंदाज़ी को बताया। उन्होंने कहा कि अर्थव्यवस्था खराब से बेहद खराब होती जा रही है और खतरनाक बात ये है कि सरकार को इस बात का एहसास नहीं है। सिंह ने कहा कि अगर इस परिस्थिति से नहीं निकला गया तो रोजगार के क्षेत्र में सबसे बुरी स्थिति पैदा होगी। अगर लगातार लोग बेरोजगार होते जाएंगे तो अर्थव्यवस्था के लिए परेशानी और बढ जाएगी। उन्होंने सरकार पर आरोप लगाया कि सरकार आर्थिक मंदी में अपनी गलती स्वीकारने की जगह दूसरों पर आरोप लगाती रही है। जीएसटी(GST) और नोटबंदी(Demonetization) को इसका बड़ा कारण बताते हुए सिंह ने कहा कि सरकार को मौजूदा संकट स्वीकारते हुए अर्थव्यवस्था को ठीक करने के उपाय खोजने चाहिए।

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article

BB14: वरुण- नताशा की शादी नहीं, इस वजह से सलमान ने नहीं की “वीकेंड के वार” की shooting

बिग बॉस अब धीरे धीरे अपने फिनाले की ओर बढ़ रहा है।हर सप्ताह दर्शक वीकेंड के वार का इंतजार करते हैं लेकिन हाल ही...

मोदी के मंच से नाराज ममता ने दिखाया तेवर, भाषण देने से किया मना

नई दिल्ली : देश भर में आज नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125 वीं जयंती मनाई जा रही है। इसी कड़ी में पीएम नरेंद्र...

Republic Day की parade में पहली बार लद्दाख लेकर आ रहा अपनी झांकी, जानें इस बार क्या कुछ होगा खास

नई दिल्ली : साल 2021 में देश अपना 72वां गणतंत्र दिवस (Republic Day) मनाने जा रहा है। कोरोना काल के कारण एक ओर जहां...

राम मंदिर की नींव के लिए 40 फीट होगी खुदाई, पाषाणकाल की विधि का होगा इस्तेमाल

नई दिल्ली : राम मंदिर (Ram mandir) निर्माण का काम शुरु हो चुका है। मंदिर निर्माण से पहले मंदिर गर्भ के नीचे सबसे पहले...

Signal पर आए WhatsApp जैसे ये नए फीचर्स, अब यूजर्स को मिल सकेगी ऐसे सुविधा…

नई दिल्ली : वॉट्सऐप (WhatsApp) को कॉम्पिटिशन देने के लिए आई सिग्नल ऐप (Signal App) लगातार अपने यूजर्स को बढ़ाने और उन्हें मेंटेन करने के लिए...