फिर बोले मनमोहन सिंह, अर्थव्यवस्था हो रही है बद से बदतर!

0
88

भारत की गिरती अर्थव्यवस्था(Economic Slowdown) को लेकर पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह(Manmohan Singh) ने एक बार फिर सरकार पर हमला बोला है। सरकार पर सीधा निशाना लगाते हुए उन्होंने कहा है कि अर्थव्यवस्था बद से बदतर होती जा रही है, और सरकार(BJP Govt.) इसपर आँख बंद किए बैठी है। उन्होंने स्थिति चुनौतीपूर्ण बताया और कहा कि सरकार को ठोस कदम उठाने की ज़रुरत है।

पूर्व प्रधानमंत्री और कांग्रेस नेता मनमोहन सिंह ने भारत की गिरती अर्थव्यवस्था को चिंताजनक बताया है। अर्थशास्त्र ज्ञाता सिंह ने कहा कि हम मंदी के दौर से गुज़र रहे हैं। विकास दर घटकर 5 फीसदी रह गई है। यह हमें 2008 की याद दिलाता है जब हमारी सरकार में अर्थव्यवस्था एक दम से नीचे आ गई थी। हालाँकि उस समय की गिरावट अंतरराष्ट्रीय वित्तीय संकट के कारण हुई थी। वो हमारे सामने एक चुनौतीपूर्ण स्थिति थी जिसे हमने एक अवसर के रूप में लिया और अर्थव्यवस्था को मजबूत करने की तरफ कदम बढ़ाए। आज के समय में भी हम कुछ वैसी ही स्थिति का सामना कर रहे हैं, फिर चाहे वो रियल स्टेट की बात हो या फिर कृषि के क्षेत्र की। प्रत्येक क्षेत्र में दिख रही गिरावट के कारण अर्थव्यवस्था लगातार नीचे जा रही है।

अपनी गलती स्वीकारने की जगह दूसरों पर आरोप लगाती बीजेपी 

ऐसे हालात में मनमोहन सिंह ने सबसे ज़्यादा खतरनाक सरकार की नज़रअंदाज़ी को बताया। उन्होंने कहा कि अर्थव्यवस्था खराब से बेहद खराब होती जा रही है और खतरनाक बात ये है कि सरकार को इस बात का एहसास नहीं है। सिंह ने कहा कि अगर इस परिस्थिति से नहीं निकला गया तो रोजगार के क्षेत्र में सबसे बुरी स्थिति पैदा होगी। अगर लगातार लोग बेरोजगार होते जाएंगे तो अर्थव्यवस्था के लिए परेशानी और बढ जाएगी। उन्होंने सरकार पर आरोप लगाया कि सरकार आर्थिक मंदी में अपनी गलती स्वीकारने की जगह दूसरों पर आरोप लगाती रही है। जीएसटी(GST) और नोटबंदी(Demonetization) को इसका बड़ा कारण बताते हुए सिंह ने कहा कि सरकार को मौजूदा संकट स्वीकारते हुए अर्थव्यवस्था को ठीक करने के उपाय खोजने चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here