उत्तराखंड में भयावह हुए डेंगू पर छिड़ी ‘भयावह’ राजनीति

0
59

उत्तराखंड(Uttarakhand) में डेंगू(Dengue) का कहर बढ़ता जा रहा है। राज्य में डेंगू(Dengue) के मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। इस मामले पर राज्य में आरोप-प्रत्यारोप भी शुरु हो गए हैं। विपक्ष मुख्यमंत्री (CM Trivendra Singh Rawat) द्वारा डेंगू(Dengue) पर दिए एक बयान को लेकर हमलावर हो गई है। वहीँ प्रशासन पर डेंगू पीड़ितों की संख्या छुपाने का भी आरोप लगा है।

उत्तरखंड में डेंगू(Dengue) अब तक की सबसे भयावह स्थिति में पहुंच गया है। देहरादून में ही सोमवार को डेंगू(Dengue) के 78 नए केस सामने आए। देहरादून में डेंगू के मरीज़ों की संख्या 1866 पर पहुंच गई है। पूरे प्रदेश में सिर्फ सोमवार को डेंगू के 141 नए केस दर्ज किए गए हैं। अब तक राज्य में डेंगू(Dengue) से 5 लोगों की मौत हो चुकी है। साथ ही 3,016 लोगों को डेंगू होने की खबर आई है। इसके चलते राज्य में आरोप-प्रत्यारोप का दौर भी शुरू हो गया है।

डेंगू के मामले छिपा रही है सरकार

राज्य आंदोलनकारी और बीजेपी नेता रविंद्र जुगरान(Ravindra Jugran) ने प्रशासन पर डेंगू(Dengue) को लेकर गंभीर न होने का आरोप लगाया है। जुगरान ने शासन पर आंकड़े छुपाने का आरोप लगाते हुए कहा कि राज्य में कम से कम 50,000 डेंगू से प्रभावित हुए हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री को पत्र भेजा था जिसमे उन्होंने आम जनता की ख्याल करने का आग्रह किया। उन्होंने राज्य में मौजूद विभिन्न संस्थानों के अस्पतालों को भी आम लोगों के लिए खोलने की मांग की है। उन्होंने कहा कि राज्य के सरकारी-गैर सरकारी हॉस्पिटल मरीजों से पैक हो चुके हैं इसलिए यह कदम उठाया जाना ज़रूरी है। इन संस्थानों में आर्मी, ओएनजीसी, वाडिया इंस्टीटयूट जैसे केंद्र संस्थानों के हॉस्पिटल शामिल हैं।

कांग्रेस छोड़ रही है डेंगू के मच्छर

वहीँ डेंगू को लेकर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के बयान पर कांग्रेस हमलावर हो गई है। शनिवार को अस्पताल में मरीजों से मिलने पहुंचे मुख्यमंत्री ने डेंगू(Dengue) के लिए विपक्ष को ज़िम्मेदार ठहरा दिया था। उन्होंने कहा था कि मच्छर सरकार के घर में पैदा नहीं होता। इसके बाद उन्होंने यह भी कहा कि, “मैं भी कह सकता हूं कि विपक्षी डेंगू के मच्छर लाकर यहां छोड़ रहे हैं।” सीएम के इसी बयान को लेकर कांग्रेस हमलावर हो गई है। कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना ने सीएम के इस बयान को बेहद निंदनीय बताया है।

अब चुप नहीं बैठेगी कांग्रेस

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री के इस बयान और प्रदेश की खराब स्वास्थ्य व्यवस्था के खिलाफ कांग्रेस का एक प्रतिनिधिमंडल मंगलवार को राज्यपाल से मिलेगा। प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह के नेतृत्व में सरकार की नाकामी पर राज्यपाल बेबी रानी मौर्य को ज्ञापन सौंपा जाएगा। कांग्रेस प्रदेश उपाध्यक्ष धस्माना ने कहा है कि डेंगू(Dengue) के मामले थमने तक कांग्रेस चुप बैठने वाली नहीं है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार पर लगातार सही काम करने के लिए दबाव बनाती रहेगी। और जबतक डेंगू के मामले आने बंद नहीं होते, तब तक चुप नहीं बैठेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here