Wednesday, April 14, 2021

बसपा का कांग्रेस में हुआ विलय, अशोक गहलोत सरकार का जश्न

Must read

‘नल से हर घर को जल’ देने की वार्षिक योजना तैयार

नयी दिल्ली,  सरकार ने जल जीवन मिशन के तहत ‘हर घर को नल से स्वच्छ पेय जल’ उपलब्ध कराने की केंद्रीय योजना के लिए...

पुलिस को मिली बड़ी सफलता,अवैध रूप से चल रही पटाखा फैक्ट्री का भंडाफोड़

सहारनपुर के थाना कुतुबशेर के मानकमउ रियासी इलाके में तीन घरों में भारी मात्रा में अवैध पटाखे बनाये जाने की सूचना पर पुलिस ने...

कोविड-19 की स्थिति पर रहेगी निवेशकों की नजर

मुंबई  बीते सप्ताह घरेलू शेयर बाजारों में दिग्गज कंपनियों में बिकवाली के बाद आने वाले सप्ताह में निवेशकों की नजर कोविड-19 महामारी की स्थिति...

अजमेर में भगवान झूलेलाल की ज्योत एवं प्रतिमा का जुलूस निकाला

अजमेर,  राजस्थान में अजमेर में सिंधी समाज के इष्टदेव भगवान झूलेलाल के अवतरण दिवस चेटीचंड के मौके पर आज भगवान झूलेलाल की ज्योत एवं...

राजस्थान में बहुजन समाज पार्टी(Bahujan Samaj Party) को बड़ा झटका लगा है। राजस्थान में बसपा(Bahujan Samaj Party) के सभी छह विधायको ने कांग्रेस का हाथ थाम लिया हैं। नगर निकाय व पंचायत चुनावों से पहले ऐसा फेरबदल ऐतिहासिक है। इसे राज्य की अशोक गहलोत(Ashok Gahlot) सरकार के लिए बड़ी राजनीतिक सफलता के रूप में देखा जा रहा है।

राजस्थान में बसपा के छह विधायकों ने विधानसभा अध्यक्ष सी पी जोशी को सोमवार देर रात एक पत्र सौंपा। विधायकों ने बिना शर्त कांग्रेस में शामिल होने की बात कही है। राज्य में बसपा(Bahujan Samaj Party) के छह विधायक राजेंद्र सिंह गुढ़ा (उदयपुर वाटी), जोगेंद्र सिंह अवाना (नदबई), वाजिब अली (नगर), लाखन सिंह (करौली), संदीप कुमार (तिजारा) और दीपचंद खेरिया (किशनगढ़ बास) थे।

रात को बदली सदस्यता

विधानसभा अध्यक्ष ने देर रात बताया कि ”बसपा विधायकों ने उनसे मुलाकात की और एक पत्र उन्हें सौंपा है।’ जानकारी के अनुसार बसपा के सभी छह विधायक मुख्यमंत्री अशोक गहलोत(Ashok Gahlot) के लगातार संपर्क में थे। सोमवार रात वे कांग्रेस में शामिल हो गए हैं। इस बारे में बसपा(Bahujan Samaj Party) के विधायकों से बात नहीं हो पाई। उनके अनुसार बसपा विधायकों के कांग्रेस में शामिल होने के कदम से अशोक गहलोत(Ashok Gahlot) सरकार संख्या बल के आधार पर और अधिक मजबूत होगी। 200 सीटों वाली राजस्थान विधानसभा में कांग्रेस के 100 विधायक हैं। वहीँ उसके सहयोगी राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) के पास एक विधायक है। इस तरह सरकार बहुमत में है।

कांग्रेस की बनी बहुमत

इसके अलावा राज्य के 13 निर्दलीय विधायकों में से 12 विधायक कांग्रेस को बाहर से समर्थन देने की घोषणा कर चुके है। वहीँ दिसंबर में विधानसभा चुनाव के बाद बसपा प्रमुख मायावती ने कांग्रेस को बाहर से समर्थन देने की घोषणा की थी। इस विलय के बाद संख्या बल के हिसाब से राज्य विधानसभा में कांग्रेस के 106 जबकि बीजेपी के 72 विधायक हैं। वहीँ माकपा, आरएलपी व बीटीपी के दो दो विधायक हैं। इसके अलावा 13 विधायक निर्दलीय हैं और दो सीटें खाली हैं। बता दें, राज्य में नवंबर में राज्य की 52 नगरपालिकाओं के 2455 वार्डों के चुनाव होने हैं। इसके बाद जनवरी में पंचायत के महत्वपूर्ण चुनाव भी हैं। इसके अलावा मंडावा व खींवसर विधानसभा सीट पर उपचुनाव भी होंगे।

10 साल बाद दोहराया इतिहास

गौरतलब है कि बसपा के सभी 6 विधायकों के कांग्रेस में शमिल होने से इतिहास दोहराया गया है। लगभग दस साल पहले 2009 में अशोक गहलोत(Ashok Gahlot) के पहले कार्यकाल के दौरान भी कुछ ऐसी ही स्थिति थी। तत्कालीन कांग्रेस सरकार स्पष्ट बहुमत के जादुई आंकड़े से पांच कम थी। ऐसे में बसपा(Bahujan Samaj Party) के सभी छह विधायक कांग्रेस से जुड़ गए थे। जिससे कांग्रेस में बहुमत के लिए विधायकों की कमी पूरी हो गयी थी।

- Advertisement -

More articles

Latest article

मंदिर में शादी कर लांखो की नकदी और जवैलरी लेकर रफूचक्कर हुई लूटेरी दुल्हन

जनपद मुज़फ्फरनगर के थाना भौरा कलां क्षेत्र के गांव मोहम्मदपुर रायसिंह निवासी किसान देवेंद्र मलिक एक महिला और एक रिस्तेदार के हाथों ठगी का...

अजमेर में भगवान झूलेलाल की ज्योत एवं प्रतिमा का जुलूस निकाला

अजमेर,  राजस्थान में अजमेर में सिंधी समाज के इष्टदेव भगवान झूलेलाल के अवतरण दिवस चेटीचंड के मौके पर आज भगवान झूलेलाल की ज्योत एवं...

राजनांदगांव में कोरोना संक्रमण बढ़ा, सुविधाओं को हो रहा विस्तार

राजनांदगांव,  छत्तीसगढ़ की राजनांदगांव नगर पालिका सहित जिले में एक ही दिन में 1284 कोरोना संक्रमित मरीज सामने आये और लगभग दर्जनभर लोगों की...

जीटीए का स्थायी राजनीतिक समाधान निकाला जायेगा: शाह

लेबोंग,  केंन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने मंगलवार को दार्जिलिंग हिल्स के लोगों को आश्वासन दिया कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) गोरखालैंड क्षेत्रीय प्रशासन...

एम्स में खाली बेड कोरोना मरीजों के लिए-शिवराज

भोपाल,  मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकरण के संबंध में चिंता जाहिर करते हुए कहा कि...