जानिए चुनाव के दौर में किस मामले में जमानत के लिए पेश हुए हुड्डा

0
87

हरियाणा के पूर्व सीएम भूपिंदर सिंह हुड्डा(Bhupinder Singh Hooda) AJL मामले में बुधवार सुबह सीबीआई की स्पेशल कोर्ट में पेश हुए। एसोसिएट जनरल लिमिटेड (AJL) प्लॉट आवंटन और मानेसर जमीन घोटाला मामले में उन्होंने जमानत के लिए अर्जी दाखिल की थी। बुधवार की सुनवाई में सीबीआई उनकी(Bhupinder Singh Hooda) इसी अर्ज़ी का जवाब देगी।

प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने 26 अगस्त को इस मामले की चार्टशीट दायर की थी। इसमें कांग्रेस द्वारा स्थापित एसोसिएटेड जर्नल्स लिमिटेड (AJL), वरिष्ठ कांग्रेस नेता मोतीलाल वोरा और हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा(Bhupinder Singh Hooda) के खिलाफ धनशोधन मामले की जांच पत्र थे। ईडी ने ये चार्टशीट धनशोधन रोकथाम (PMLA) अधिनियम के प्रावधानों के तहत दर्ज की थी। एजेएल, वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं द्वारा नियंत्रित कंपनी है, जिसमें गांधी परिवार भी शामिल है। यह समूह नेशनल हेराल्ड अखबार चलाता है।

ये था एजेएल मामला

एजेंसी के एक अधिकारी के अनुसार चार्टशीट में पंचकूला के सेक्टर 6 में प्लाट नंबर सी-17 की खरीद और प्रक्रिया का ज़िक्र है। इसमें कब्जे से जुड़ी प्रक्रिया में प्रत्यक्ष तौर पर शामिल होने वाले आरोपियों के नाम भी होंगे। बता दें कि ईडी ने सीबीआई की प्राथमिकी के आधार पर 2016 में पीएमएलए शिकायत दर्ज की थी। जानकारी के मुताबिक भूपिंदर सिंह हुडडा(Bhupinder Singh Hooda) ने 2005 में एचयूडीए (हुडा) की नीति का उल्लंघन किया था। उन्होंने अपने अधिकारों का दुरुपयोग किया था। और बेइमानी से उक्त प्लाट को पुनर्आवंटन की आड़ में नए सिरे से एजेएल को आवंटित किया। यह आवंटन उन्होंने एजेएल को मूल दर पर दिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here