Sunday, November 29, 2020

चुनावी राजनीति में उतरा पहला ठाकरे

Must read

बड़ी खबर : किसान बिल के विरोध में बसपा, ट्वीट कर जताया विरोध

यूपी की पूर्व सीएम मायावती प्रदर्शन कर रहे किसानों के समर्थन में आ गईं हैं। उन्होंने कहा है कि केन्द्र सरकार द्वारा कृषि से...

दामिनी के माता-पिता मिले मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र से , दोषियों को फाँसी की माँग की

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत से मुख्यमंत्री आवास में दामिनी (काल्पनिक नाम) के माता-पिता ने भेंट की। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि उत्तराखण्ड...

नई दिल्ली : कोरोना वैक्सीन को लेकर सक्रिय हुए CM योगी, अधिकारियों को दिया ये आदेश

नई दिल्ली : सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) से जुड़े सभी तैयारियों का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने कहा...

गृह मंत्रालय के नए दिशानिर्देश, त्यौहारी मौसम और सर्दियों को देखते हुए सख्ती पर जोर

नई दिल्ली : केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने बुधवार को कोरोना महामारी से जुड़ी निगरानी, नियंत्रण और सावधानियों को लेकर नए दिशानिर्देश जारी किए हैं,...

महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों में इस बार शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्य ठाकरे भी चुनाव लड़ेंगे। ठाकरे परिवार से चुनाव लड़ने वाले पहले सदस्य आदित्य ठाकरे महाराष्ट्र के वर्ली विधानसभा सीट से लड़ेंगे। शुक्रवार शाम शिवसेना के वरिष्ठ नेता अनिल परब ने वर्ली से पार्टी पदाधिकारियों के साथ बंद कमरे में बैठक के दौरान इसकी घोषणा की।

25 साल के आदित्य ठाकरे इस महीने की शुरुआत में जन आशीर्वाद यात्रा पर थे। इस यात्रा से उन्होंने युवा वोटर समेत कई लोगों को अपने साथ जोड़ा था। जानकारी के अनुसार आदित्य ठाकरे मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार हो सकते हैं। रिपोर्ट्स के अनुसार शिवसेना चुनावों में बिना किसी चेहरे के उतरती है। हालांकि अब पार्टी ने रणनीति बदलने का फैसला किया है। इसी के साथ आदित्य को मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार बनाने से शिवसेना का उनके सहयोगी पार्टी बीजेपी से टकराव तय है। बीजेपी पहले ही साफ कर चुकी है कि मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार बीजेपी चुनेगी। महाराष्ट्र में इस समय बीजेपी और शिवसेना की गठबंधन सरकार है।

गठबंधन टूटने की भी संभावना

गौरतलब है कि पिछले 30 सालों से सहयोगी रहे बीजेपी-शिवसेना गठबंधन में पिछले कुछ समय से अनबन चल रही है। हालाँकि 2019 के लोकसभा चुनाव में दोनों पार्टियों ने मिलकर चुनाव लड़ा था। लेकिन अब इस अनबन के चलते गठबंधन टूटने की भी संभावना बन रही है। शिवसेना की आदित्य ठाकरे को मुख्य रोल देने की चाह दोनों पार्टियों के बीच सीट-शेयरिंग को लेकर टकराव बढ़ा सकती है। इसी के चलते दोनों पार्टियों का गठबंधन टूटने की आशंका बढ़ रही है।

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article

राज्यसभा उपचुनाव : सुशील मोदी 2 दिसंबर को करेंगे नामांकन, RJD के उम्मीदवार पर सस्पेंस

बिहार की एक राज्यसभा सीट के लिए हो रहे उपचुनाव में मतदान होगा या नहीं इस पर से सस्पेंस खत्म नहीं हो रहा है।...

CM नीतीश पर अमर्यादित टिप्पणी से नाराज JDU कार्यकर्ताओं ने तेजस्वी का पूतला फूंका

मुज़फ़्फ़रपुर ; विधानसभा में  नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव द्वारा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के ऊपर अभद्र टिप्पणी करने को लेकर पूरे बिहार में जगह जगह...

मुज़फ़्फ़रपुर में हाईवे पर लूटपाट करने वाले गिरोह का पर्दाफाश, 5 किलो गांजा और हथियार के साथ 5 अपराधी गिरफ्तार

  मुज़फ़्फ़रपुर : जिले के गायघाट पुलिस ने हाइवे लूटपाट गिरोह के पांच सदस्यों को हथियार व लूट के समान के साथ पकड़ा और इस...

उत्तराखंड : मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र ने किया सूर्याधार जलाशय का लोकार्पण

देहरादून : मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने रविवार को स्वर्गीय गजेन्द्र दत्त नैथानी जलाशय सूर्याधार का लोकार्पण किया। इस झील के निर्माण पर 50.25...

Uttarakhand: 389 नए संक्रमित संक्रमित मिले, आठ की मौत, मरीजों की संख्या 74 हजार पार

देहरादून : उत्तराखंड में पिछले 24 घंटे के दौरान 389 नए मामलों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव प्राप्त हुई और 278 मरीज स्वस्थ होने...