आखिर यूपी में क्यों एनआरसी लागू करेंगे योगी?

0
94

उत्तर प्रदेश(Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य में NRC लागू करने की बात कही है। असम में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर(NRC) लागू करने के फैसले को उन्होंने महत्वपूर्ण और साहसिक निर्णय बताया है। उन्होंने कहा कि ज़रुरत पड़ने पर उत्तर प्रदेश में भी NRC लागू किया जाएगा। इसके साथ ही उन्होंने अयोध्या मामले पर भी अपनी बात रखी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ(Yogi Adityanath) ने ज़रुरत पड़ने पर उत्तर प्रदेश में भी NRC लागू करने की बात कही। उन्होंने कहा ‘कोर्ट के आदेश को लागू करना एक साहसिक और महत्वपूर्ण निर्णय है। मैं मानता हूं कि हम लोगों को प्रधानमंत्री और गृहमंत्री को इसके लिए बधाई देना चाहिए। यह चरणबद्ध तरीके से लागू हुआ है। अगर जरूरत पड़ी तो हम उत्तर प्रदेश में भी ऐसा करेंगे।’ उन्होंने असम में NRC लागू होने को प्रेरणादायक बताया। उन्होंने कहा ‘असम में जिस तरह एनआरसी को लागू किया गया है, वह सीखने वाला है। वहां के अनुभव के आधार पर हम भी शुरुआत कर सकते हैं। यह राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए महत्वपूर्ण है। यह गरीबों का अधिकार अवैध घुसपैठियों को छीनने से रोकेगा।’

जनसंख्या नियंत्रण पर योगी सहमत

इसके बाद मुख्यमंत्री ने अयोध्या मामले(Ayodhya Case) पर भी अपना बयान दिया। उन्होंने कहा ‘प्रत्येक व्यक्ति का कोर्ट में विश्वास है। कोर्ट का जो भी फैसला होगा, हमें स्वीकार होगा। हम कोर्ट के फैसले का सम्मान करने जा रहे हैं। आपको चिंता करने की जरूरत नहीं है।’ वहीँ जनसंख्या नियंत्रण(Population Control) के मुद्दे पर योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री से सहमति जताई। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार प्रधानमंत्री की बातों से पूरी तरह सहमत है। एक सीमा के बाद इसपर नियंत्रण लगाने की जरूरत है। इसको कैसे लागू किया जाएगा, सरकार के स्तर पर इस मुद्दे पर चर्चा की जरूरत है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि सरकार इस मुद्दे पर काम शुरू कर चुकी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here