Friday, March 5, 2021

उत्तर प्रदेश बना अपराध में नम्बर वन- रामगोविंद

Must read

नंदकुमार सिंह चौहान का निधन हम सब के लिए बड़ी क्षति: मिश्रा

भोपाल, मध्यप्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने खंडवा से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सांसद एवं पूर्व प्रदेश अध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान के निधन...

कृषि विस्तार के अधिकारी निलंबित

मध्यप्रदेश के सागर में जिला प्रशासन ने पदीय दायित्वों के निर्वहन में लापरवाही बरतने पर एक अधिकारी को निलंबित कर दिया है। आधिकारिक जानकारी के...

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह पहुंचे सैदपुर, इस कार्यक्रम में किए शिरकत

ब्रेकिंग न्यूज़ गाजीपुर। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह पहुंचे सैदपुर। सैदपुर के मदारीपुर पहुंचे रक्षामंत्री राजनाथ सिंह। शादी कार्यक्रम में शिरकत करने पहुँचे राजनाथ सिंह। केंद्रीय मंत्री महेंद्र नाथ पांडेय भी...

पिछली सरकार में नौकरियां बेची जाती थी – राम गोविंद चौधरी

लखनऊ, नेता प्रतिपक्ष राम गोविंद चौधरी ने कहा कि पिछली सरकार में नौकरियां बेची जाती थी और स्वामी प्रसाद मौर्या खरीदते थे। तथ्यहीन बात कर रहे...

उत्तर प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी ने योगी सरकार को कानून व्यवस्था के मुद्दे पर घेरते हुये कहा कि हत्या के मामलों में यह राज्य देश में पहले नम्बर पर है। सदन में राज्यपाल के अभिभाषण के जवाब में  चौधरी ने मंगलवार को एनसीआरबी के आंकड़े प्रस्तुत करते हुये कहा कि वर्ष 2019 में उत्तर प्रदेश आईपीसी,सीएलएल अपहरण महिलाओं के खिलाफ आईपीसी और सीएलएल अपराध, अनुसूचित जाति के खिलाफ अपराध/अत्याचार, राज्य के खिलाफ अपराध तथा हत्या के अपराधों में देश में प्रथम स्थान पर रहा है। साइबर अपराध में कर्नाटक के बाद दूसरे नम्बर पर है। देश के कुल साइबर अपराध का 25.6 प्रतिशत केवल उत्तर प्रदेश में हो रहे हैं।

कोरोना काल के दौरान अचानक लाॅक डाउन के फैसले को अनियोजित बताते हुये उन्होंने कहा कि सरकार कोरोना प्रबंधन में पूरी तरह से फेल रही। गरीब मजदूर भूखे-प्यासे पैदल ही अपने घरों की तरफ भागे, रास्ते में पुलिस द्वारा लाठियों से पीटे गये। आज तक लाॅक डाउन जैस त्रासदी नहीं देखी। संकट काल में सरकार सर्वदलीय बैठक करती है और विपक्ष के साथ मिलकर बातचीत करती है, लेकिन इस सरकार ने ऐसा कोई काम नहीं किया।

सपा नेता ने आरोप लगाया कि कोरोना काल में प्रदेश में भारी भ्रष्टाचार हुआ, करोड़ों का घोटाला हुआ,आक्सीमीटर और अन्य सामान पांच गुना दाम पर खरीदे गये। पैसे का बंदर बाॅट हुआ। विपक्ष के लोगों ने गरीबों की मदद की तो उनपर मुकदमा दर्ज करा दिया गया। प्रदेश में कोरोना से कम सरकार के कोरोना प्रबन्धन से ज्यादा मौते हुई।

चौधरी ने सरकार को दोषी ठहराते हुये प्रवासी मजदूरों की पैदल मार्ग, सड़क मार्ग, ट्रेन मार्ग से वापस घर जाते हुये मरने वाले महिला, पुरूष और बच्चों की संख्या बताने तथा उनके आश्रितों को आर्थिक सहायता दिये जाने की माॅग की।

उन्होने कहा कि किसानों को आतंकवाद और परजीवी कहे जाने पर दुःख व्यक्त करते हुये कहा कि परजीवी उसे कहते हैं जिनका जीवन दूसरे पर निर्भर रहता है। किसान अन्नदाता है, दूसरों को अपनी मेहनत की उपज देकर जीवन देता है। राष्ट्रपिता महात्मा गाॅधी ने अपनी मृृत्यु से एक दिन पहले कहा था कि देश का प्रधानमंत्री किसान होना चाहिए।

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article

पोषक लाल चावल की पहली खेप हूई रवाना

असम के प्रख्यात और पोषक लाल चावल की पहली खेप गुरूवार को अमेरिका के लिए रवाना कर दी गयी। केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय ने...

उत्तर प्रदेश में कोरोना का हाल

इस बीच चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में कल एक दिन में कुल 1,18,545...

झगड़े में एक व्यक्ति की मौत जानिए क्या है वजह

 महाराष्ट्र में सांगली जिले की कवठे-महंकल तहसील के बोरगांव में उप सरपंच के चुनाव में गुरुवार को अपराह्न दो राजनीतिक गुटों के बीच हुए...

एफसी गोवा ने रिकॉर्ड छठी बार आईएसएल के प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई किया

अपने प्रदर्शन को लेकर हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के इतिहास में सबसे अधिक निरंतरता रखने वाली एफसी गोवा ने रिकॉर्ड छठी बार आईएसएल...

बैडमिंटन टूर्नामेंट के क्वार्टरफाइनल में इन खिलाड़ियो ने कर लिया प्रवेश

विश्व चैंपियन और दूसरी सीड भारत की पीवी सिंधू, चौथी वरीयता प्राप्त किदाम्बी श्रीकांत, विश्व चैंपियन और पांचवीं सीड बी साई प्रणीत और अजय...