विजयादशमी के दिन दंडाधिकारी बने योगी, अपनाया नाथ संप्रदाय का भेष

0
54

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री (CM Yogi Adityanath) और गोरक्षपीठ के उत्तराधिकारी योगी आदित्यनाथ मंगलवार को नाथ संप्रदाय की विशेष वेशभूषा में नजर आ रहे हैं | गोरक्षपीठाधीश्वर के साथ बड़ी संख्या में वेद पाठी बालक शस्त्र त्रिशूल, तलवार और अन्य शस्त्र लिए सैनिक के रूप में उनके साथ सुरक्षा में चल रहे है | सबसे पहले योगी आदित्यनाथ गुरु गोरक्षनाथ के समक्ष गर्भ गृह में पहुंचे जहां उन्होंने श्रीनाथ जी का अनुष्ठान एवं पूजन संपंन किया | इस मौके पर बड़ी संख्या में भक्त मंदिर परिसर में मौजूद है | वहीं पुलिस ने भी सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए है |

बैड बाजार के साथ डमरु, बीन, शंख बजाने वाले कलाकारों के श्रद्धा से भरे शौर्य पूर्ण प्रदर्शन ने सभी का ध्यान आकृष्ट किया | मंदिर का पूरा परिसर एक आध्यात्मिक एवं सकारात्मक ऊर्जा से सराबोर है | बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ विजयदशमी के दिन गोरखनाथ मंदिर में न्यायिक दंडाधिकारी की भूमिका में नजर आएंगे | विजयदशमी की देर रात होने वाली पात्र पूजा में नाथ पंथ के संतों के लिए अदालत लगेगी |

अदालत में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बतौर गोरक्षपीठाधीश्वर संतों की समस्याओं को सुलझाएंगे | पारंपरिक पात्र पूजा नाथ पंथ में अनुशासन बनाने रखने के लिए की जाती है | बता दें कि गोरखनाथ मंदिर में शारदीय नवरात्र भव्य रूप में मनाया जाता है | शारदीय नवरात्र में सीएम योगी नौ दिन तक व्रत रखकर माता की पूजा-अर्चना करते है | शारदीय नवरात्र में योगी अपने भवन से बाहर नहीं निकलते हैं | अष्टमी के दिन शस्त्र की पूजा की जाती है |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here