गाँधी को पाकिस्तानी राष्ट्रपति कहने पर सस्पेंड किया गया ये बीजेपी नेता

0
77

लोकसभा चुनाव से पहले बीजेपी की तरफ से एक के बाद एक ऐसे बयान आ रहे है जिससे पार्टी को विपक्ष की कड़ी आलोचना का सामना करना पड़ रहा है| पहले भोपाल से लोकसभा चुनाव लड़ रही साध्वी प्रज्ञा ने महात्मा गाँधी के हत्यारे गोडसे को देशभक्त कहा था, फिर अनंत हेगड़े और मध्य प्रदेश बीजेपी के प्रवक्ता अनिल सौमित्र ने महात्मा गांधी को पाकिस्तान का राष्ट्रपिता बता दिया| गोडसे पर बयानबाजी के बाद बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि साध्वी व हेगड़े के बयान का पार्टी से कोई लेना देना नहीं है। यह उनके निजी विचार है | वहीं महात्मा गांधी को पाकिस्तान का राष्ट्रपिता बताने वाले बीजेपी नेता और प्रवक्ता अनिल सौमित्र को पार्टी ने सस्पेंड कर दिया है |

अनिल सौमित्र ने शुक्रवार सुबह अपने फेसबुक अकाउंट पर लिखा था कि “राष्ट्रपिता थे, लेकिन पाकिस्तान राष्ट्र के | भारत राष्ट्र में तो उनके जैसे करोड़ों पुत्र हुए, कुछ लायक तो कुछ नालायक |” हालांकि, उन्होंने अपने पोस्ट में महात्मा गांधी का नाम तो नहीं लिखा लेकिन संकेत साफ थे की उन्होंने महात्मा गाँधी के बारे में यह पोस्ट किया था |

महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को लेकर बीते दो दिनों में बवाल बढ़ गया है | पहले बीजेपी नेता और भोपाल से उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताया और उसके बाद केंद्र सरकार में मंत्री अनंत हेगड़े ने उनका बचाव किया, हालांकि बाद में उन्होंने कहा कि उनका ट्विटर हैक हो गया था | भोपाल से चुनाव लड़ रही साध्वी प्रज्ञा ने अपने बयान में नाथूराम के बारे में कहा कि वह देशभक्त थे, हैं और रहेंंगे | राहुल गांधी, प्रियंका गांधी समेत पूरे विपक्ष ने उनके इस बयान को खतरनाक बताया था | जिसके बाद उन्हें माफी मांगनी पड़ी थी, हालांकि बीजेपी ने प्रज्ञा के इस बयान से खुद को अलग कर लिया था पर जब साध्वी के बयान पर बवाल मच रहा था तो मोदी सरकार में मंत्री अनंत हेगड़े ने ट्वीट कर लिखा कि इस बयान पर माफी मांगने की जरूरत नहीं है। उन्होंने तो ये भी कह दिया कि इस चर्चा से नाथूराम गोडसे खुश हो रहे होंगे |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here