Sunday, November 29, 2020

अब दुनिया के सबसे बड़े घोटाले में फंसे चिदम्बरम! सुब्रमण्यम स्वामी का सनसनीखेज आरोप

Must read

हमने हर सुविधा दी, अब कोच और खिलाड़ियों से देश के लिए पदक की उम्मीद : सिसोदिया

नई दिल्ली : दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने शनिवार को सर्वोदय बाल विद्यालय, अशोकनगर में विश्वस्तरीय एस्ट्रोटर्फ हॉकी मैदान का उद्घाटन किया। उन्होंने...

हैल्थ प्रोटोकॉल की हो पालना समाज के सभी वर्ग निभाएं दायित्व – मुख्यमंत्री अशोक गहलोत

जयपुर : मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि कोरोना संक्रमण खतरनाक स्थिति की ओर बढ़ रहा है। जरा सी लापरवाही खुद के साथ ही...

UP: बरेली में ‘लव जिहाद’ के आरोप में पहली FIR, नए कानून के तहत दर्ज हुआ केस

योगी सरकार ने लव जिहाद पर कानून लाने के बाद बरेली में लव जिहाद का पहला मुकदमा दर्ज किया गया है। जहां एक मुस्लिम...

Crime : बदमाशों ने RSS के प्रांत प्रचारक के भाई को मारी गोली….

अलीगढ़ : जिले के गांव समैना-ततारपुर गांव में सोमवार रात्रि रंजिश के चलते राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) के मेरठ प्रांत के प्रचारक धनीराम...

पूर्व गृहमंत्री पी. चिदंबरम(P. Chidambaram) पर एक केस ख़त्म होने से पहले दूसरे केस की तलवार लटक गई है। INX मीडिया केस के चलते तिहाड़ जेल में कैद चिदंबरम पर बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी(Subramanian Swamy) ने एक और घोटाले का आरोप लगाया है। सुब्रमण्यम स्वामी ने चिदंबरम पर आरोप लगाया है कि 98 हजार करोड़ के इंडियाबुल्‍स स्‍कैम में पी चिदंबरम को भी फायदा पहुंचा है। इसके साथ ही उन्‍होंने इसे दुनिया का सबसे बड़ा वित्तीय घोटाला करार दिया है।

इंडियाबुल्स हाउसिंग फाइनेंस और उसके सहयोगियों पर वित्तीय घोटाले मामले को लेकर सुब्रमण्‍यम स्वामी लंबे समय से मुखर हैं। बीते दिनों सुब्रमण्‍यम स्वामी ने सोशल मीडिया पर एक लेटर शेयर किया था। इस लेटर में दावा किया गया कि इंडियाबुल्स हाउसिंग फाइनेंस जानबूझ कर वित्तीय पतन और दिवालियापन की तरफ बढ़ रही है, जो रियल एस्टेट, बैंकिंग, शेयर बाजार आदि में भ्रष्टाचार का मसला है। इसमें 1 लाख करोड़ रुपये की चपत निवेशकों को और राष्ट्रीय हाउसिंग फाइनेंस बोर्ड को लगी है। स्वामी के अनुसार इंडियाबुल्स(Indiabulls) ने 100 से अधिक शेल कंपनियां बनाई, जिन्होंने NHB से कर्ज लिया। इस कर्ज को इंडियाबुल्स ने महाराष्ट्र, दिल्ली, गुरुग्राम, बेंगलुरु और चेन्नई की कई रीयल एस्टेट कंपनियों को दे दिया था। इस कर्ज का दायरा 30 करोड़ रुपये से 1,000 करोड़ रुपये का था।

हज़ारों करोड़ के कर्ज में डूबी कंपनी का सच

गौरतलब है कि कुछ महीनों पहले इंडियाबुल्स हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड (IHFL) के चेयरमैन और निदेशकों पर जनता के 98 हजार करोड़ रुपये के फंड में हेराफेरी के आरोप लगे थे। यह आरोप कानूनी फर्म मानाजियम जुरिस ने लगाया था। हालांकि बीते दिनों इस फर्म ने झूठे आरोप के लिए सार्वजनिक रूप से माफी भी मांग ली। मानाजियम जुरिस ने अपने माफीनामे में लिखा था कि ‘सभी झूठी और तथ्यात्मक रूप से गलत शिकायतों को वापस ले लिया गया है, जो कि मेरे कार्यालय की ओर से तैयार की गई थी और दाखिल की गई थी।’ माफीनामे में आगे लिखा था,’हम भविष्य में कभी भी इस तरह की गतिविधियों में लिप्त नहीं होने का आश्वासन देते हैं। हम वादा करते हैं कि ना तो मैं और ना ही मेरी फर्म इंडियाबुल्स समूह या उसकी कंपनियों के खिलाफ प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से भविष्य में कोई मुकदमा दाखिल करेगी।’ हालांकि इसके बावजूद एक बार फिर इंडियाबुल्‍स के खिलाफ दिल्‍ली हाई कोर्ट में नई याचिका दायर की गई। इस याचिका में भी कंपनी पर वित्‍तीय अनियमितता के आरोप लगे हैं। इंडियाबुल्स समूह रियल एस्टेट, शेयर बाजार, बैंकिंग और हाउसिंग लोन के कारोबार में सक्रिय है। इस समय आंकड़न-जानकारी के अनुसार इंडियाबुल्स 80 हजार करोड़ से अधिक के कर्ज में डूबी हुई है।

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article

राज्यसभा उपचुनाव : सुशील मोदी 2 दिसंबर को करेंगे नामांकन, RJD के उम्मीदवार पर सस्पेंस

बिहार की एक राज्यसभा सीट के लिए हो रहे उपचुनाव में मतदान होगा या नहीं इस पर से सस्पेंस खत्म नहीं हो रहा है।...

CM नीतीश पर अमर्यादित टिप्पणी से नाराज JDU कार्यकर्ताओं ने तेजस्वी का पूतला फूंका

मुज़फ़्फ़रपुर ; विधानसभा में  नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव द्वारा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के ऊपर अभद्र टिप्पणी करने को लेकर पूरे बिहार में जगह जगह...

मुज़फ़्फ़रपुर में हाईवे पर लूटपाट करने वाले गिरोह का पर्दाफाश, 5 किलो गांजा और हथियार के साथ 5 अपराधी गिरफ्तार

  मुज़फ़्फ़रपुर : जिले के गायघाट पुलिस ने हाइवे लूटपाट गिरोह के पांच सदस्यों को हथियार व लूट के समान के साथ पकड़ा और इस...

उत्तराखंड : मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र ने किया सूर्याधार जलाशय का लोकार्पण

देहरादून : मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने रविवार को स्वर्गीय गजेन्द्र दत्त नैथानी जलाशय सूर्याधार का लोकार्पण किया। इस झील के निर्माण पर 50.25...

Uttarakhand: 389 नए संक्रमित संक्रमित मिले, आठ की मौत, मरीजों की संख्या 74 हजार पार

देहरादून : उत्तराखंड में पिछले 24 घंटे के दौरान 389 नए मामलों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव प्राप्त हुई और 278 मरीज स्वस्थ होने...