उन्नाव की घटना पर जया बच्चन की लाल साड़ी और लाल टोपी का ये है राज़!

0
228

उन्नाव की घटना को लेकर यूपी सरकार पर दबाव जारी है और मंगलवार को संसद के सामने समाजवादी पार्टी और अखिल भारतीय तृणमूल कांग्रेस दोनों के ही सांसदों ने उन्नाओ मामले पर जोरदार प्रदर्शन किया है । सभी संसद परिसर में महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने एकत्रित हो कर विरोध किया | समाजवादी पार्टी की सांसद जया बच्चन विरोध के रूप में सामने आई है | जया बच्चन ने लाल टोपी और लाल साडी में यह विरोध किया |

अखिलेश यादव भी मिले पीड़िता से

आज समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव भी पीड़िता से मिलने KGMU पहुंचे थे | यहां उन्होंने बीजेपी पर जमकर हमला बोला | अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी पार्टी पहले दिन से पीड़िता के साथ है, लगातार हम साथ में खड़े रहेंगे | सरकार की जिम्मेदारी है | यूपी ने देश को पीएम, राष्ट्रपति दिया है लेकिन क्या एक बेटी को न्याय नहीं दिला सकते हैं | उन्होंने कहा कि बीजेपी की सरकार कुछ भी कह सकती है और कुछ भी करा सकती है, आज आप सपा का नाम ले रहे हैं और सोनभद्र में आप जवाहर लाल नेहरू का नाम ले रहे थे | योगी मुख्यमंत्री और उसके कार्यकाल में एसी घटना हो जाए ज़िम्मेदार कौन है? आरोपी उत्तर प्रदेश की जेल में हैं और कौन नहीं जनता आज उत्तर प्रदेश की जेलों में क्या क्या हो रहा है | जेल में हत्या हो रही हैं | जनता ने बड़ी उम्मीद से ये सरकार बनवाई हैं। सरकार की जिम्मेदारी हैं कि जनता की बात सुनी जाए। अब अगर एक बेटी को न्याय नहीं मिलेगा तो कौन विश्वास करेगा सरकार पर?

इस बीच, विपक्ष ने भी उन्नाव को लेकर संसद के दोनों सदनों में मंगलवार को अपना पक्ष रखा। उन्नाव मामला एक दुर्घटना के बाद रविवार को सुर्खियों में आया।  पीड़िता और उसके वकील लखनऊ के किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (KGMU) ट्रॉमा सेंटर में मौत से जूझ रहे हैं। चार बार के विधायक – कुलदीप सेंगर कथित बलात्कार को लेकर एक साल से अधिक समय से जेल में हैं।

लड़की ने कहा था कि विधायक द्वारा उनके साथ यौन उत्पीड़न किया गया था | जब वह 2017 में नौकरी की तलाश में अपने घर उन्नाव चली गई थी। उसके पिता की पुलिस हिरासत में मौत हो गई थी, जिसे अवैध हथियार रखने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। गिरफ्तारी से पहले, उन्हें कुलदीप सेंगर के भाई अतुल सेंगर और उनके लोगों ने पीटा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here