6 दिसंबर से होगा मंदिर निर्माण, बीजेपी के विवादास्पद सांसद का बड़ा बयान

0
47

उन्नाव सांसद साक्षी महाराज(Sakshi Maharaj) ने बुधवार को राम मंदिर(Ram Mandir) पर एक बड़ा बयान दिया है। लोकसभा चुनाव जीतने के बाद पहली बार अपने गृह जनपद में आए बीजेपी नेता साक्षी महाराज(Sakshi Maharaj) ने कहा कि मुझे लगता है कि राम मंदिर मुद्दे की सुनवाई लगभग पूरी हो चुकी है। उन्होंने(Sakshi Maharaj) कहा कि उनके निजी मत के अनुसार 6 दिसंबर से मंदिर निर्माण शुरू कर दिया जाएगा । इसके साथ ही उन्होंने चिन्मयानन्द(Chinmayanand) मामले पर भी अपना बयान दिया।

उत्तर प्रदेश में उन्नाव से सांसद साक्षी महाराज(Sakshi Maharaj) ने राम मंदिर पर अपना निजी मत बताया। उन्होंने कहा कि राम मंदिर मुद्दे की सुनवाई लगभग पूरी हो चुकी है। 6 दिसंबर आने वाला है, और मेरा निजी मत है कि हम 6 दिसंबर से मंदिर निर्माण शुरू कर देंगे। इसके साथ ही चिन्मयानन्द मामले पर भी उन्होंने बयान दिया।

चिन्मयानन्द मामले का ताल्लुक इंद्रदेव से

साक्षी ने कहा कि ‘मैं चिन्मयानन्द का पक्ष नहीं लेना चाहता, लेकिन मुझे याद है कि साधू महात्मा तपस्या किया करते थे। इंद्र अपनी सत्ता बचाने के लिए मेनकाएँ भेजा करता था, और उनकी तपस्या भंग करा देता था । चिन्मयानंद के साथ जो हुआ है वो कानून के पास है, न्यायालय के पास है। परंतु वह लड़की कह रही है कि मेरे साथ 365 दिन यौन शोषण होता रहा। लेकिन उसने सिर्फ 49 दिन वीडियो बनाए। और वो लॉ की छात्रा है, तो लॉ की छात्रा को 49 वीडियो बनाने के बाद पता चला कि मेरा शोषण हो रहा है। मेरे साथ कुछ गलत हुआ है और ये जांच का विषय है। इसमें अगर चिन्मयानन्द जी दोषी है तो उन्हें सजा मिलनी चाहिए। लेकिन अगर लड़की दोषी है, उसने ब्लैकमेलिंग का काम किया है, तो उसकी जांच होनी चाहिए।’

मोदी मैजिक पर दिया विपक्ष को जवाब

साक्षी महाराज(Sakshi Maharaj) ने अमेरिका में मोदी मैजिक पर विपक्ष के सवालो का भी जवाब दिया। साक्षी ने कहा कि ‘कम से कम विपक्ष और हिंदुस्तान को अपने प्रधानमंत्री का धन्यवाद अदा करना चाहिए। जब मोदी जी अमेरिका में है तो वे बीजेपी के नेता नहीं है, वो भारत के प्रधानमंत्री है। ये बड़ी बात है कि अमेरिका जो सारे विश्व का दादा है, विश्व की सबसे बड़ी शक्ति है। वो अगर हमारे प्रधानमंत्री का अपने चुनाव के लिए प्रयोग कर रहा है, तो इसका मतलब यह हुआ कि प्रधानमंत्री मोदी की लोकप्रियता सारे विश्व में है। इस लोकप्रियता का लाभ ट्रंप भी उठाना चाहते है। इसके लिए हमे अपने प्रधानमंत्री को बधाई देना चाहिए न कि कुर्ता फाड़ना चाहिए।’

अजय चौहान की रिपोर्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here