जिस ट्रेन को योगी ने लखनऊ में दिखाई हरी झंडी, उसे कानपुर में क्यों दिखाई गई लाल झंडी?

0
44

उत्तर प्रदेश के मुख्यममंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार सुबह तेजस एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखा कर लखनऊ से रवाना किया। हालांकि ट्रेन को कानपुर पहुँचते ही लाल झंडी दिखा दी गई। इस ट्रेन में सवार योगी आदित्यनाथ के विरोध प्रदर्शन में आए रेलवे कर्मचारियों की वजह से ट्रेन को कुछ देर के लिए रुकना पड़ा।

रेलवे प्लेटफार्म के निजीकरण को लेकर रेलवे कर्मचारियों के विरोध प्रदर्शन की खबर आई है। घटना शुक्रवार दोपहर कानपुर सेंट्रल रेलवे स्टेशन की है। जब लखनऊ से चली तेजस ट्रेन कानपुर रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नम्बर एक पर रुकी, और ट्रेन में सफर कर रहे मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी हाथ हिलाकर लोगों का अभिवादन कर रहे थे, तभी उत्तर रेलवे मेन्स एसोसिएशन के बैनर तले सैकड़ो कर्मचारियों ने सरकार विरोधी नारे लगाने शुरु कर दिए। नारेबाजी रोकने की कोशिश में दोनों पक्ष के बीच मुठभेड़ भी हुई।

निजीकरण के खिलाफ ये सरकारी कर्मचारी

इस मुठभेड़ के चलते एसोसिएशन से जुड़े अन्य सदस्य भी विरोध में उतर आए। इसके बाद विरोधियों ने पूरे सेंट्रल स्टेशन में घूम घूम कर नारे लगाए। गौरतलब है कि ये विरोध प्रदर्शन केंद्र सरकार द्वारा रेलवे स्टेशन के प्लेट फार्म के निजीकरण नीतियों के खिलाफ किया गया। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि सरकार देश के साथ अन्याय कर रही है। उन्होंने कहा कि रेलवे समेत अन्य बड़े विभागों का निजीकरण करना गलत है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here