Thursday, January 21, 2021

जरूर पढ़ें :- अखिलेश यादव के बुंदेलखंड दौरे में कब, कहाँ और क्या हुआ, exclusive News Nशा

Must read

इटावा में दो हजार रुपये के लिए दोस्त ने किया ऐसा काम, जानकर हो जायेंगे हैरान

इटावा, उत्तरप्रदेश में इटावा के फ्रेंड्स कालोनी इलाके के अडडा श्यामनगर मे दोस्त ने दोस्त की मात्र 2000 के लेन देन के विवाद मे...

पुलिस को मिली सफलता, जप्त हुआ महुआ लाहन और देशी शराब जप्त

रायसेन,  मध्यप्रदेश के रायसेन जिले के सांची जनपद के ग्राम गुलगांव और कालापीला से आबकारी विभाग और पुलिस प्रशासन की संयुक्त टीम ने साढ़े...

हार्दिक पंड्या के पिता का दिल के दौरे से हुआ निधन, कुणाल ने छोड़ा टूर्नामेंट

भारतीय क्रिकेटर हार्दिक और क्रुणाल पांड्या के पिता का शनिवार की सुबह दिल का दौरा पड़ने के बाद निधन हो गया। इस दुःखद खबर...

जगत प्रकाश नड्डा ने जलपाईगुड़ी हादसे पर शोक व्यक्त किया

नई  दिल्ली, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने पश्चिम बंगाल के जलपाईगुड़ी में हुए सड़क दुर्घटना में कई लोगों के...

जब चित्रकूट पहुंचे अखिलेश :-

akhilesh yadav
akhilesh yadav

  • समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव 7 जनवरी को दोपहर 2:00 बजे चित्रकूट के हवाई पट्टी पर अपने निजी विमान से पहुंचते हैं.
  • चित्रकूट के हवाई पट्टी पर अखिलेश यादव का समाजवादी पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं के द्वारा जोरदार स्वागत किया जाता है
  • अखिलेश यादव हवाई पट्टी पर अपने समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेताओं और कार्यकर्ताओं का अभिवादन करते हैं.

भाजपा के 4 साल पूरे लेकिन सारे काम अधूरे

अखिलेश यादव ने कहा कि सपा के समय में चित्रकूट में पर्यटन के विकास के लिए बड़े विमानों व व्यवसाय उड़ानों हेतु चित्रकूट की हवाई पट्टी का जो काम शुरू हुआ था, वह भाजपा सरकार ने ठप करा दिया विकास का हवाई दावा करने वाली भाजपा के लिए अब उत्तर प्रदेश की जनता कह रही है भाजपा के 4 साल पूरे लेकिन सारे काम अधूरे

अखिलेश यादव का काफिला हवाई पट्टी से गेस्ट हाउस के लिए आगे बढ़ता है

 

akhilesh yadav
akhilesh yadav

  • अखिलेश यादव गेस्ट हाउस के बाद कार्यकर्ता सम्मेलन में पहुंचते हैं वहां पर मौजूद कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हैं.
  • अखिलेश यादव स्थानीय लोगों से भी मुलाकात करते हैं और स्थानीय नेताओं से 2022 के चुनाव को लेकर चर्चा भी करते हैं और कामतानाथ के दर्शन पूजन भी करते हैं.

 रात्रि विश्राम चित्रकूट में 

 

जानिए 8 जनवरी को अखिलेश यादव ने चित्रकूट में क्या किया :-

 

 

अखिलेश यादव  सुबह कामदगिरि परिक्रमा पर निकल जाते हैं इस दौरान श्री कामधेनू मंदिर में दर्शन पूजन करते हैं और पैदल लगभग 5 किलोमीटर की परिक्रमा भी करते हैं. इसके अलावा सभी धार्मिक स्थलों पर नमन करते हुए आगे बढ़ते हैं.

परिक्रमा मार्ग में अखिलेश स्थानीय लोगों से करते हैं मुलाकात:-

 

परिक्रमा मार्ग पर ही अखिलेश यादव ने एक दुकान पर खड़े होकर कुल्हड़ में चाय पी और उसके रोजगार के बारे में भी जाना इसके बाद अखिलेश यादव आगे बढ़ चले आगे चलने पर जो भी मंदिर और पवित्र स्थल मिले उसको नमन करते हुए जनता का हाल जाना.

 

रास्ते में मिले पत्रकारों के सवालों का जवाब भी अखिलेश ने दिया और दुकानदारों से उनके रोजगार की जानकारी भी ली इसी दौरान बच्चों के लिए खिलौने भी खरीदते हैं और निशानेबाजी भी करते नजर आए, इस वक्त दोपहर को चली थी, दोपहर के वक्त अखिलेश चित्रकूट की पहाड़ी पर भी पहुंचे.

अखिलेश वापस गेस्ट हाउस पहुंचते हैं और प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हैं प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद बांदा के लिए रवाना हो जाते हैं.

 

भाजपा को नसीहत 

इस दौरान अखिलेश यादव का बयान आता है कि चित्रकूट में रोपवे (rope-way) का रंग रोगन तो कर दिया गया पर लक्ष्मण पहाड़ी मंदिर के परिसर और चित्रकूट के कई मार्गों का विकास के अन्य काम उपेक्षित पड़े हैं भाजपा याद रखें विकास के बहुरंगी और बहुआयामी होते हैं अब उत्तर प्रदेश की जनता कह रही है भाजपा के 4 साल पूरे लेकिन सारे काम अधूरे.

 

पूरे रास्ते फरियादियों की सुनते रहे पुकार:-

8 जनवरी को देर शाम अखिलेश बांदा पहुंचते हैं और चित्रकूट से लेकर बांदा तक पूरे रास्ते समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं का और जनता का लगातार तांता लगा रहता है, बांदा में पहुंचने से पहले ही कुछ पीड़ित अपनी फरियाद लेकर अखिलेश के काफिले के पास पहुंच जाते हैं. अखिलेश अपने काफिले को रोककर उन सभी फरियादियों की फरियाद सुनते हैं.

फरियादियों से अखिलेश ने कहा जल्द दिलाऊंगा न्याय

अखिलेश कहते हैं कि जल्द ही आपको न्याय दिलाऊंगा और कुछ फरियादियों को अखिलेश कहते हैं कि 24 घंटे में आपको मदद मिल जाएगी.

अखिलेश का काफिला पहुंचता है बांदा

बांदा में अखिलेश कई पुराने नेताओं के घर जाकर करते हैं मुलाकात.

 

अखिलेश की झलक पाने को उमड़ी भीड़

अखिलेश स्थानीय लोगों से बात करते हैं और लोग अखिलेश यादव के साथ सेल्फी और ऑटोग्राफ भी लेते हैं. इस दौरान अखिलेश अपने कार्यकर्ताओं का हौसला बढ़ाते हैं.

 

 

अखिलेश यादव स्वतंत्रता संग्राम सेनानी जमुना प्रसाद बोस को भावपूर्ण श्रद्धांजलि भी देते हैं और समाजवादी नेताओं से और बांदा की जनता से भी मुलाकात करते हैं जिसके बाद अखिलेश यादव का रात्रि विश्राम बांदा में होता है.

 

 

9 जनवरी को इस तरीके से रहा अखिलेश का कार्यक्रम:-

 

9 जनवरी को सुबह अखिलेश यादव दोबारा आम जनता और अपने कार्यकर्ताओं से सीधी मुलाकात करते हैं.

काफ़िला रोककर कार्यकर्ताओं संग पी चाय :-

कभी रास्ते में रुक कर कार्यकर्ताओं के साथ अखिलेश चाय पी लेते हैं तो कभी काफिला रोककर कार्यकर्ताओं के साथ सीधा संवाद, इसके साथ-साथ अखिलेश उन बच्चों से मुलाकात करते हैं जो समाजवादी पार्टी की सरकार में लैपटॉप पाए थे और आज उसी लैपटॉप से उनका रोजगार चल रहा है.

जब फतेहपुर के लिए रवाना हुए अखिलेश:-

अखिलेश सुबह 11:00 बजे तक बांदा में अपने कार्यकर्ता और आम जनता से मुलाकात करने के बाद फतेहपुर के लिए रवाना हो जाते हैं. बांदा से फतेहपुर तक का सफर अखिलेश का अखिलेश कार्यकर्ताओं के बीच गुजरा, अखिलेश ने अपने कार्यकर्ताओं का अभिवादन स्वीकार किया और कार्यकर्ता अपने नेता को बीच पाकर बहुत ही प्रसन्न थे.

 

अखिलेश का काफिला दोपहर तक पहुंचता है फतेहपुर जहाँ एक बड़ा जनसैलाब अखिलेश का जोरदार  करता है स्वागत.

अखिलेश अपने सभी कार्यकर्ताओं नेताओं से मुलाकात करने के बाद पत्रकारों से भी बात करते हैं संवाद

फतेहपुर की समस्याओं को उठाते हैं अखिलेश इसके बाद उनका काफिला फतेहपुर से होता हुआ रायबरेली के लिए रवाना हो जाता है.

 

किसानों के समर्थन में उठाई आवाज़

रायबरेली में अखिलेश यादव का सपा के कार्यकर्ता नजरे बिछाए इंतजार कर रहे थे जैसे ही अखिलेश का काफिला रायबरेली पहुंचता है. जहाँ अखिलेश यादव का स्वागत बड़ा माला पहनाकर किया जाता है. इस दौरान अखिलेश यादव एक जनसभा को संबोधित करते हैं. वहां मौजूद स्थानीय जनता और नेता कार्यकर्ताओं से अपनी बात कहते हैं और जनसभा खत्म होने के बाद स्थानीय लोगों की समस्याएं भी सुनते हैं जिसके बाद अखिलेश यादव प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हैं और रायबरेली समेत प्रदेश और देश की वर्तमान स्थिति पर अपना पक्ष रखते हैं साथ में किसानों के मुद्दों को भी अखिलेश यादव ने रायबरेली से उठाया.

जब समाजवादी घुड़सवारों ने की अखिलेश के काफिले की अगुवाई:-

अखिलेश यादव का काफिला जब रायबरेली से एक गांव से गुजरता हुआ लखनऊ की तरफ आगे बढ़ रहा था तो उसी दौरान कुछ ग्रामीणों ने अपने घोड़े को लेकर अखिलेश की अगुवाई की उन घुड़सवार को अखिलेश ने रोककर उनका अभिनंदन स्वीकार किया और धन्यवाद दिया साथ में उनका हालचाल ही जाना.

अखिलेश का तीन दिवसीय दौरा संपन्न

आपको बता दें कि इस तरीके से अखिलेश का बुंदेलखंड दौरा पूरा हुआ अब देखना यह होगा कि इस दौरे से अखिलेश यादव बुंदेलखंड में अपनी पार्टी को कितनी मजबूती दे पाते हैं.

 

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article

शिवसेना के “तांडव” को लेकर फंसी बीजेपी

मुंबई, वेब सीरीज तांडव को लेकर बीजेपी द्वारा उठाए गए सवालों को लेकर अब शिवसेना सामने आ चुकी है। शिवसेना ने मोदी सरकार पर...

अजमेर ग्रामीण की नौ पंचायतों में 22 जनवरी को होगा मतदान

अजमेर,  राजस्थान में पंचायत चुनाव-2021 के तहत अजमेर ग्रामीण की नौ ग्राम पंचायतों पर 22 जनवरी को मतदान होगा। जिला निर्वाचन विभाग सूत्रों के...

जानिए राहुल को हटाकर क्यों बनेगे गहलोत कांग्रेस अध्यक्ष ?

नई दिल्ली, राहुल गाँधी के इस्तीफा देने के बाद से ही कांग्रेस में अध्यक्ष पद खाली चल रहा है। उनकी मां सोनिया गांधी फिलहाल पार्टी...

आबकारी टीम ने इतने शराब तस्करों को किया गिरफ्तार

बालाघाट,मध्यप्रदेश के बालाघाट जिले के वारासिवनी के कौथूरना चौक पर आबकारी विभाग की टीम ने दो शराब तस्करों को गिरफ्तार कर उनके पास से...

सेंसेक्स पहुंचा इतने हजारी के पार,निफ्टी भी इतने अंक चढ़ा

मुंबई, अनुकूल बजट की उम्मीद में घरेलू शेयर बाजारों में आज लगातार तीसरे दिन लिवाली का जोर रहा और बीएसई का 30 शेयरों वाला...