मुंबई बीजेपी अध्यक्ष की सांप्रदायिक टिप्पणी, चुनाव आयोग का नोटिस

0
51

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार के दौरान मुम्बई बीजेपी अध्यक्ष मंगल प्रभात लोढ़ा ने विपक्ष को निशाना बनाते बनाते अपने मतदाताओं के एक वर्ग को ही निशाना बना दिया । बुधवार को मुंबादेवी क्षेत्र के कुंभारवाड़ा में शिवसेना उम्मीदवार पांडुरंग सकपाल के समर्थन में आयोजित रैली में पहुंचे लोढा ने विवादित बयान दिया । उन्होंने कांग्रेस उम्मीदवार और निवर्तमान विधायक अमीन पटेल पर निशाना साधते हुए मतदाताओं के एक वर्ग को लेकर भी विवादित टिप्पणी की ।

चुनावी सभा मे उन्होंने कांग्रेस के उम्मीदवार अमीन पटेल को लेकर कहा कि ‘जब बीजेपी और सेना के लोग शपथ ले रहे होंगे तब आपको कैसा लगेगा, एक ऐसा व्यक्ति साथ में शपथ ले रहा होगा जो आप को ना मन से पसंद है, ना तन से पसंद है, ना जात से पसंद है और ना विचार से पसंद है ।’ साथ ही लोढा ने पटेल पर सिर्फ एक खास समुदाय के हितों का ही ध्यान रखने का आरोप लगाया । उन्होंने दक्षिण मुंबई के घोडापदेव में 4000 ट्रांजिट कैंपों का हवाला देते हुए कहा कि, ‘एक ठेकेदार को लाभ पहुंचाने के लिए पूरा ट्रांजिट कैंप ही एक खास समुदाय को दे दिया गया । और जब कोई इमारत गिरती है तो मेरे यहां रहने वाले हिन्दू मराठी भाइयों को दर-दर भटकना पड़ता है ।’

इस दौरान मंगल लोढा ने 1992 में मुंबई बम धमाकों का हवाला देते हुए कहा कि बम और गोलियों का निर्माण महज पांच किलोमीटर के दायरे वाली इन गलियों में किया गया था । उन्होंने कहा, ‘आप ये भी याद रखिए कि 1992 के दंगों के बाद, इस मुंबई में कितने बम ब्लास्ट हुए, कितनी गोलियां चलीं, ये सारा उद्योगिस्तान यहां के 5 किलोमीटर की गलियों के अंदर है । और उनके वोट के साथ जो व्यक्ति चुनकर आएगा वो आने वाले समय में आपका क्या ध्यान रखेगा ।’

गौरतलब है कि भिंडी बाज़ार और नागपाड़ा जैसे मुस्लिम बहुल क्षेत्रों के पास के इलाके में ये भाषण देते हुए लोढा ने किसी विशेष क्षेत्र का नाम नही लिया । बता दें कि मंगल लोढ़ा मुंबादेवी से शिवसेना उम्मीदवार पांडुरंग सकपाल के समर्थन में बोल रहे थे । इस दौरान उन्होंने अपने संबोधन में पाकिस्तान के लिए भी फूल बरसाए । अपने एक नारे में उन्होंने पाकिस्तान का नक्शे से नाम मिटाने का भी ज़िक्र किया । बता दें कि लोढ़ा का भाषण खत्म होने के बाद शिवसेना के युवा नेता आदित्य ठाकरे ने भी सभा मे शिरकत ली ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here