Sunday, November 29, 2020

भारतीय क्रिकेट टीम की कप्तान ने लिया T20 से सन्यास

Must read

कोरोना की रोकथाम के लिए प्रशासन हुआ सख्त, बिना मास्क के घूमने वालों को दस घंटे की जेल

रांची : देश में कोरोना की दूसरी लहर आने की आशंका व्यक्त की जा रही है, कई राज्यों और बड़े महानगरों में इसका असर...

बड़ी खबर : यहां जानिए दिल्ली की कौन सी जगह पर किसानों को बिना ट्रैक्टर के प्रवेश करने की मिली इजाजत

केंद्र सरकार के नए कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलित किसानों का धरना-प्रदर्शन अभी भी जारी है। किसानों ने रात सिंधु बॉर्डर पर गुजारी। किसान...

रायसेन : प्रसिद्ध बौद्ध पर्यटन स्थल सांची में इस बार नहीं होगा महाबोधि महोत्सव, जाने क्यों

रायसेन : विश्व प्रसिद्ध पर्यटन स्थल सांची में प्रत्येक वर्ष नवम्बर माह के अंतिम रविवार को आयोजित होने वाला महाबोधि महोत्सव कोरोना महामारी के...

लालू ने खाने की जद्दोजहद से लेकर राजनीति के दाँवपेंच ऐसे खेले

बिहार की राजनीति में लालू यादव किंग मेकर माने जाते है बिहार ही नही लालू यादव ही एक ऐसे नेता है जो पूरे देश...

महेंद्र सिंह धोनी के बाद अब महिला क्रिकेटर मिताली राज ने भी संन्यास लेने की घोषणा कर दी है। मंगलवार को भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान मिताली राज ने टी-20 अंतरराष्ट्रीय से संन्यास लेने का एलान किया। मिताली राज टी-20 में भारत महिला टीम की पहली कप्तान थीं और वे 32 टी-20 मैंचों में भारत का नेतृत्व कर चुकी हैं।

भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान मिताली राज ने संन्यास लेने की घोषणा करते हुए कहा कि ”2006 से अब तक टी-20 में भारत का प्रतिनिधित्व करने के बाद मैं इस फॉर्मेट से संन्यास ले रही हूं। इससे 2021 में होने वाले वनडे वर्ल्ड कप की तैयारियों पर ध्यान दे सकूंगी।” मिताली ने कहा,’ देश के लिए वर्ल्ड कप जीतने का मेरा सपना अभी अधूरा है और मैं इसमें अपना बेहतर देना चाहती हूं। मैं बीसीसीआई का धन्यवाद करना चाहती हूं कि उन्होंने मुझे लगातार सहयोग दिया। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ होने वाली अगली सीरीज के लिए भारतीय टी-20 टीम को शुभकामनाएं देती हूं।’

बता दें कि मिताली टी-20 में 2000 का आंकड़ा छूनेवाली पहली भारतीय महिला हैं। उन्होंने 2016 में आखिरी बार टीम का नेतृत्व किया था। पिछले साल टी-20 वर्ल्ड कप में इंग्लैंड के खिलाफ सेमीफाइनल मुकाबले में टीम प्रबंधन और हरमनप्रीत ने मिताली को नहीं खिलाने का फैसला किया था। जिसके बाद भारत वो मैच हार गया था। उस समय मिताली ने तत्कालीन कोच रमेश पवार की सीओए से शिकायत भी की थी। इसकी कार्यवाई के चलते कोच रमेश पवार का कॉन्ट्रैक्ट रेनू नहीं किया गया था। उनके बाद डब्ल्यूवी रमन को टीम के कोच का पदभार दिया गया था। गौरतलब है कि पूरी भारतीय महिला क्रिकेट टीम में मिताली ने टी-20 फॉर्मेट के 89 मैच में सबसे ज्यादा 2364 रन बनाए हैं।

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article

राज्यसभा उपचुनाव : सुशील मोदी 2 दिसंबर को करेंगे नामांकन, RJD के उम्मीदवार पर सस्पेंस

बिहार की एक राज्यसभा सीट के लिए हो रहे उपचुनाव में मतदान होगा या नहीं इस पर से सस्पेंस खत्म नहीं हो रहा है।...

CM नीतीश पर अमर्यादित टिप्पणी से नाराज JDU कार्यकर्ताओं ने तेजस्वी का पूतला फूंका

मुज़फ़्फ़रपुर ; विधानसभा में  नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव द्वारा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के ऊपर अभद्र टिप्पणी करने को लेकर पूरे बिहार में जगह जगह...

मुज़फ़्फ़रपुर में हाईवे पर लूटपाट करने वाले गिरोह का पर्दाफाश, 5 किलो गांजा और हथियार के साथ 5 अपराधी गिरफ्तार

  मुज़फ़्फ़रपुर : जिले के गायघाट पुलिस ने हाइवे लूटपाट गिरोह के पांच सदस्यों को हथियार व लूट के समान के साथ पकड़ा और इस...

उत्तराखंड : मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र ने किया सूर्याधार जलाशय का लोकार्पण

देहरादून : मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने रविवार को स्वर्गीय गजेन्द्र दत्त नैथानी जलाशय सूर्याधार का लोकार्पण किया। इस झील के निर्माण पर 50.25...

Uttarakhand: 389 नए संक्रमित संक्रमित मिले, आठ की मौत, मरीजों की संख्या 74 हजार पार

देहरादून : उत्तराखंड में पिछले 24 घंटे के दौरान 389 नए मामलों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव प्राप्त हुई और 278 मरीज स्वस्थ होने...