Saturday, January 23, 2021

उर्मिला मातोंडकर के इस्तीफे पर यूँ आपस मे भिड़ गए दो कांग्रेसी दिग्गज

Must read

हरियाणा: प्रदेश कांग्रेस मामलों के प्रभारी विवेक बंसल तीन दिन के दौरे पर

चंडीगढ़, हरियाणा कांग्रेस मामलों के प्रभारी विवेक बंसल 19 जनवरी से 21 जनवरी तक प्रदेश के दौरे पर आयेंगे । यह जानकारी प्रदेश कांग्रेस कमेटी...

आरएमएम सदस्यों को अन्य राजनीतिक दल में शामिल होने की छूट, ना भूले ये बात

चेन्नई: अभिनेता रजनीकांत के राजनीति में प्रवेश नहीं करने के फैसले पर पुनर्विचार से इंकार किये जाने के बाद रजनी मक्कल मंदरम(आरएमएम) ने सोमवार...

Signal पर आए WhatsApp जैसे ये नए फीचर्स, अब यूजर्स को मिल सकेगी ऐसे सुविधा…

नई दिल्ली : वॉट्सऐप (WhatsApp) को कॉम्पिटिशन देने के लिए आई सिग्नल ऐप (Signal App) लगातार अपने यूजर्स को बढ़ाने और उन्हें मेंटेन करने के लिए...

सहारनपुर में इतने लोगों ने नहीं लगवाया टीका, सामने आई ये बड़ी वजह

सहारनपुर:  उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में 500 लोगों को कोरोना के टीके लगाये जाने थे लेकिन 427 ने ही टीके लगवाये । मुख्य चिकित्सा अधिकारी...

उर्मिला मांतोडकर(Urmila Mantodkar) की कांग्रेस से रुखसती के बाद पार्टी में अंतर्कलह का घमासान मच गया है। एक तरफ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मिलिंद देवड़ा (Milind Deora) ने इस्तीफे के बाद संजय निरुपम (Sanjay Nirupam) पर निशाना साधा, तो वहीं इस इस्तीफे के लिए संजय भी देवड़ा को जिम्मेदार ठहराते दिखाई दिए। दोनों नेताओ ने ट्वीट कर एक दूसरे पर वार किया।

उर्मिला के इस्तीफे के बाद संजय ने कहा कि कांग्रेस में आत्म मंथन चल रहा है। जिनको जाना है वह छोड़कर जा सकते हैं, जो पार्टी के साथ हैं वह पार्टी में रहेंगे। उर्मिला के इस्तीफे की बात पर उन्होंने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि उनकी चिट्ठी को लीक कर दिया गया। यह निजता की बात थी और ऐसा किसी भी हाल में नहीं होना चाहिए था। उर्मिला की ओर से लगाए गए दो नेताओं पर आरोप की बात पर संजय ने कहा कि जिन नेताओं पर आरोप लगाए गए हैं उनके लिए मैं दावे से कहता हूं कि उन्होंने पार्टी के लिए पूरी मेहनत से काम किया है। उनको किसी भी पद पर नियुक्त नहीं किया गया है और मैं फिर उनसे अनुरोध करूंगा कि वे अपने फैसले पर विचार करें। वहीँ मिलिंद देवड़ा ने एक ट्वीट कर कहा कि जब उर्मिला ने लोकसभा चुनाव लड़ने का निर्णय लिया तो मैं उनके साथ खड़ा था। मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष के तौर पर उस समय मैंने उनका पूरा समर्थन किया। मैं उस समय भी उनके साथ था जब उन्हें पार्टी में लाने वाले लोग ही विरोध में उतर आए थे। उन्होंने कहा कि इस पूरे घटनाक्रम के लिए उत्तरी मुंबई के कांग्रेस नेताओं को ही जिम्मेदार ठहराया जाना चाहिए।

संजय निरुपम ने मिलिंद देवड़ा पर आरोप लगाए कि कैंपेन चलाकर उन्हें हटवाने के बाद मिलिंद देवड़ा ने अपनी नियुक्ति करवाई थी। अब विधानसभा चुनाव से पहले वे पीछे हट गए हैं। दोनों के इस आपसी कलह का असर महाराष्ट्र में होने वाले विधानसभा चुनाव पर भी पड़ने की आशंका है। गौरतलब है कि कुछ दिन पहले उर्मिला मांतोडकर ने मुंबई कांग्रेस(Mumbai Congress) से इस्तीफा दे दिया था। इसकी वजह उन्होंने पार्टी में गुटबाज़ी को बताया था। उन्होंने कहा था कि पार्टी में उनकी शिकायतों पर कोई कार्यवाई नहीं की गई, बल्कि उनके शिकायती खत को मीडिया में लीक कर दिया गया।

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article

हो जाइए सावधान! कहीं आप भी ज्यादा Toilet तो नहीं जाते, भरना पड़ेगा भारी जुर्माना

नई दिल्ली : कभी ऐसा हो जाए कि आप जब अपने ऑफिस पहुंचे और नया फरमान दिखें जिसमें कहा जाए कि यदि टॉयलेट एक...

तिरंगे फहराने के जानें खास नियम, पालन नहीं करने पर जाना पड़ सकता जेल

नई दिल्ली : हर साल की भांति इस बार भी 26 जनवरी को बड़े ही धूमधाम से मनाया जा रहा है। दरअसल आज ही...

Nursery Admission Guidelines जनवरी के अंतिम हफ्ते में हो सकती हैं जारी

  नई दिल्ली : राजधानी में सीबीएसई बोर्ड (CBSE Board) परीक्षाओं के मद्देनजर 10वीं-12वीं के लिए स्कूलों 18 जनवरी से खोल दिया गया है। इन...

UPSC छात्रों को अतिरिक्त मौका नहीं, महामारी के कारण की गई थी दूसरे अवसर की अपील

नई दिल्ली : केंद्र ने शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट को बताया कि वह पिछले साल महामारी के कारण यूपीएससी (UPSC) द्वारा आयोजित परीक्षा में...

BB14: वरुण- नताशा की शादी नहीं, इस वजह से सलमान ने नहीं की “वीकेंड के वार” की shooting

बिग बॉस अब धीरे धीरे अपने फिनाले की ओर बढ़ रहा है।हर सप्ताह दर्शक वीकेंड के वार का इंतजार करते हैं लेकिन हाल ही...