Saturday, January 23, 2021

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का एसपीजी कवर हटाया गया, अब किसका नम्बर?

Must read

हरियाणा प्राइवेट स्कूल संघ ने की मांग, प्राइमरी से खोले जाएं स्कूल

हिसार, कोविड-19 के कारण मार्च से बंद पड़े स्कूलों की छठी से आठवीं तक कक्षाओं में एक फरवरी से पढ़ाई शुरू करवाने के हरियाणा...

जापान में बर्ड फ्लू फैलने से इतने हजार बतखों का किया गया खात्मा

टोक्यो, जापान में चिबा के पूर्वी प्रांत में बर्ड फ्लू के एक नए प्रकोप को लेकर 12,000 बतखों (कलहंस) को मार दिया गया। जापान की...

26 जनवरी को 500 कैदियों को रिहा करेगी योगी सरकार

प्रदेश सरकार द्वारा बनाई गई रिहाई की स्थायी नीति के तहत 16 वर्ष की वास्तविक सजा काट चुके अच्छे चाल चलन वाले कैदी पात्र...

ध्रुपद गायन के प्रशिक्षण के लिये जल्द करे आवेदन, ये है अंतिम तारीख

भोपाल, मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में स्थित उस्ताद अलाउद्दीन खाँ संगीत एवं कला अकादमी ने प्रतिभागियों से प्रशिक्षण के लिये 21 जनवरी तक आवेदन...

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह (Manmohan Singh) को मिली स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (Special Protection Group) सुरक्षा हटा ली है। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को अब Z+ सुरक्षा के घेरे में रहना होगा। मोदी सरकार की ओर से यह फैसला विभिन्न खुफिया एजेंसियों रॉ और आई की ओर से मिले इनपुट, कैबिनेट सचिव और गृह मंत्रालय (Ministry of Home Affairs) के बीच तीन महीने की समीक्षा बैठक के बाद लिया गया है। गृह मंत्रालय की ओर से इस संबंध में एक पत्र जारी कर पूर्व प्रधानमंत्री को जानकारी दे दी गई है। मोदी सरकार के इस फैसले के बाद अब स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (SPG) सुरक्षा केवल चार लोगों को ही दी जाएगी।

 

बता दें कि जिन लोगों को एसपीजी सुरक्षा मिलेगी उनमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी शामिल हैं। इससे पहले पूर्व प्रधानमंत्री को भी यह सुरक्षा मिली थी। सुरक्षा के खतरे को देखते हुए प्रधानमंत्री और उनके परिवार के सदस्यों जैसे पत्नी, बेटे व बेटी को भी एसपीजी सुरक्षा दी जाती है। SPG में इस समय आईटीबीपी, सीआरपीएफ और सीआईएसएफ के 3000 से अधिक सैनिक शामिल हैं। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की सुरक्षा हटाने के मामले में जानकारी देते हुए एक अधिकारी ने बताया कि एसपीजी एक्ट 1988 के नियमों के मुताबिक पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के खतरे की स्थिति को देखते हुए हर साल समीक्षा की जाती है। सभी सुरक्षा एजेंसियों से मिले इनपुट के आधार पर सुरक्षा बैठक में यह फैसला किया गया है।

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article

UPSC छात्रों को अतिरिक्त मौका नहीं, महामारी के कारण की गई थी दूसरे अवसर की अपील

नई दिल्ली : केंद्र ने शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट को बताया कि वह पिछले साल महामारी के कारण यूपीएससी (UPSC) द्वारा आयोजित परीक्षा में...

BB14: वरुण- नताशा की शादी नहीं, इस वजह से सलमान ने नहीं की “वीकेंड के वार” की shooting

बिग बॉस अब धीरे धीरे अपने फिनाले की ओर बढ़ रहा है।हर सप्ताह दर्शक वीकेंड के वार का इंतजार करते हैं लेकिन हाल ही...

मोदी के मंच से नाराज ममता ने दिखाया तेवर, भाषण देने से किया मना

नई दिल्ली : देश भर में आज नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125 वीं जयंती मनाई जा रही है। इसी कड़ी में पीएम नरेंद्र...

Republic Day की parade में पहली बार लद्दाख लेकर आ रहा अपनी झांकी, जानें इस बार क्या कुछ होगा खास

नई दिल्ली : साल 2021 में देश अपना 72वां गणतंत्र दिवस (Republic Day) मनाने जा रहा है। कोरोना काल के कारण एक ओर जहां...

राम मंदिर की नींव के लिए 40 फीट होगी खुदाई, पाषाणकाल की विधि का होगा इस्तेमाल

नई दिल्ली : राम मंदिर (Ram mandir) निर्माण का काम शुरु हो चुका है। मंदिर निर्माण से पहले मंदिर गर्भ के नीचे सबसे पहले...