कश्मीर के युवाओं को खेल मंत्रालय का शानदार तोहफा

0
86

कश्मीर(Kashmir) से आर्टिकल 370(Article 370) हटाने के बाद घाटी में विकासकार्य शुरू हो गया है। कश्मीर के युवाओं को लेकर भी सरकार ने योजनाएं बनानी शुरू कर दी हैं। केंद्रीय खेल मंत्री किरेन रिजिजू(Kiren Rijiju) ने कश्मीर के युवाओं को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि कश्मीर के युवा खेलना चाहते हैं। और ये उनके लिए भी अच्छा है। क्योंकि वह खेलेंगे तो उनका ध्यान नहीं भटकेगा।

दिल्ली के जवाहर लाल नेहरू स्टेडियम(JLN Stadium) में रविवार सुबह जल शक्ति मंत्रालय द्वारा नमामि गंगे- ‘द ग्रेट गंगा रन’ का आयोजन किया गया। इस मैराथन(Marathon) का मकसद एक जनआंदोलन की शुरुआत कर लोगों को गंगा की स्वच्छता के लिए जागरूक करना है। इसको लेकर केंद्रीय मंत्री किरेन रिजिजू ने कहा, ‘मैराथन का मकसद बहुत बड़ा है। इस देश के लिए गंगा की अहमियत है, जिसके लिए जागरुकता अभियान शुरू किया गया है। नमामि गंगे से जुड़ने के लिए इस मैराथन में बच्चे, बड़े, बुजुर्ग और लड़कियां सभी दौड़ रहे हैं। साथ ही फिट इंडिया कैम्पेन भी चल रहा है।’

इसके साथ ही खेल मंत्री किरेन रिजिजू ने कश्मीर के मुद्दे पर भी प्रतिक्रिया दी। रिजिजू ने कहा, “कल काफी कश्मीर के युवा मेरे पास आये थे। उन्हें खेलने नही दिया जा रहा है। पुराने लोग उन्हें डिस्टर्ब करते हैं। कश्मीर के युवा खेलना चाहते हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘’हम सबको आगे लेकर चलेंगे। इसके लिए पूरी प्लानिंग कर रहे हैं। वहां के गांव और शहरों में युवा दौड़ेंगे और खेलेंगे तो दिमाग भी अच्छा रहेगा। इससे जो भटकाने की कोशिश करते हैं, वो नहीं होगा। आप चिंता मत कीजिए सब खेलेंगे, सब ठीक हो जाएगा।’ गौरतलब है कि कश्मीर को भारत का हिस्सा बनाने के बाद घाटी में जीवन सुधारने के लिए योजनाएं बनाई जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here