हयूस्टन में एनर्जी सेक्टर के सीईओ से मिल रहे थे मोदी, तभी पहुंच गए सिंधी, बलूच और पश्तून!

0
90

शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ‘Howdy Modi’ कार्यक्रम के लिए ह्यूस्टन पहुंचे। यहाँ प्रधानमंत्री मोदी ने वहां के एनर्जी सेक्टर के सीईओ के साथ मुलाकात की। एनर्जी के क्षेत्र में भारत (India) और अमेरिका (America) के बीच सहयोग को विस्तार देने के उद्देश्य से यह बैठक बुलाई गई थी। वही बलूच अमेरिकन, सिंधी अमेरिकन और पश्तो अमेरिकन समुदाय के लोग भी प्रधानमंत्री से मिलने ह्यूस्टन पहुंच गए।

‘Howdy Modi’ कार्यक्रम के लिए ह्यूस्टन पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को वहां के एनर्जी सेक्टर के सीईओ से मिले। बैठक के दौरान भारत और अमेरिका ने टेल्यूरियन और पेट्रोनेट के साथ लिक्विफाइड नेचुरल गैस (एलएनजी) के लिए मेमोरैंडम ऑफ अंडरस्टैंडिंग (MOU) पर हस्ताक्षर किए। पांच मिलियन टन (50 लाख टन) सालाना एलएनजी के लिए दोनों देशों के बीच एमओयू साइन किया गया। टेल्यूरियन और पेट्रोनेट ने इसके लिए ट्रैन्ज़ैक्शन एग्रीमेंट को मार्च, 2020 तक अंतिम रूप देने का लक्ष्य निर्धारित किया है। इस बैठक में करीब 16 कंपनियों के सीईओ मौजूद थे।

न्यूयॉर्क भी जाएंगे मोदी

बता दें कि ह्यूस्टन के बाद मोदी न्यूयार्क जाएंगे, जहां वह 27 सितंबर को संयुक्त राष्ट्र महासभा के सत्र को संबोधित करेंगे। मोदी मंगलवार को ट्रंप से न्यूयार्क में मिलेंगे। मंगलवार को होने वाली बैठक से आगामी वर्षों के लिए दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों की दिशा तय होने की संभावना है। उम्मीद है कि दोनों नेता बढ़ते द्विपक्षीय व्यापार विवाद के समाधान के प्रयास, रक्षा और ऊर्जा समझौते और अफगानिस्तान में शांति प्रक्रिया सहित विभिन्न द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों पर बातचीत कर सकते हैं। पिछले चार महीनों में दोनों नेताओं की यह चौथी बैठक होगी। बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी और ट्रम्प के बीच पिछले चार महीनों में यह चौथी बैठक होगी। वहीँ ह्यूस्टन के एनआरजी स्टेडियम में प्रधानमंत्री रविवार को ‘Howdy Modi’ कार्यक्रम के लिए 50 हजार लोगों की विशाल भीड़ को संबोधित करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here