Saturday, January 23, 2021

कश्मीर में पाबंदियां आतंकवाद के खिलाफ हैं, विदेश मंत्री ने विदेश मे समझाई हक़ीक़त

Must read

लालू यादव की तबीयत बिगड़ी, सांस लेने में हो रही तकलीफ, रिम्स में हैं भर्ती

चारा घोटाले मामले में सजायाफ्ता और रिम्स के पेइंग वार्ड में इलाज करवा रहे राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद...

भारतरत्न MGR के जन्मदिन पर PM मोदी ने किया उन्हें याद

नयी दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को अन्नाद्रमुक के संस्थापक एवं तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री एम जी रामचंद्रन की जयंती पर नमन...

इंदौर जिले जेल मामले में पुलिस ने शुरू की जांच, जानें मामले

इंदौर, मध्यप्रदेश की इंदौर जिला जेल में दो पक्षों के बीच हुए विवाद के मामले में पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू कर...

सुशांत के 35 वे जन्मदिन पर फैंस ने ऐसे मनाया “सुशांत डे”

    मुंबई, टीवी और फिल्म स्टार सुशांत सिंह राजपूत की आज 35वीं जन्मदिन है। आज सुशांत हमारे बीच होते तो खूब धूमधाम से अपना बर्थडे...

भारत के विदेश मंत्री एस. जयशंकर (S Jaishankar) ने कश्मीर मुद्दे और वहां संचार सुविधाओं पर पाबंदियों को लेकर बयान दिया है। सरकार द्वारा लगाई इन पाबंदियों के बचाव में उन्होंने इसे आतंकियों से निपटने का इकलौता तरीका बताया है। कानून व्यवस्था और सुरक्षा का हवाला देकर जयशंकर ने इस मुद्दे पर सरकार का बचाव किया।

ब्रुसेल्स में एक इंटरव्यू के दौरान केंद्रीय विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने कश्मीर(Kasmir) मसले पर राय रखी। उन्होंने कहा कि ‘कश्मीरियों को प्रभावित किए बिना आतंकियों(Terrorists) को अपने सरगना के साथ संपर्क करने से रोकना संभव नहीं था। ये कैसे हो सकता है कि सिर्फ आतंकियों और उनके आकाओं के कम्युनिकेशन पर बैन लगाया जाए और बाकी कश्मीरियों के लिए इंटरनेट की सुविधा चालू रहे। जाहिर तौर पर ऐसा नहीं हो सकता।’ इसके साथ ही भारत-पकिस्तान के बीच बातचीत के प्रस्ताव पर उन्होंने दो टूक शब्दों में जवाब दिया। उन्होंने कहा कि ‘पाकिस्तान(Pakistan) खुले तौर पर आतंकियों को अपनी जमीं पर पनाह दे रहा है। ऐसे में भारत उसके साथ किसी भी तरह की बातचीत नहीं कर सकता।’ विदेश मंत्री ने कश्मीर में प्रतिबंधों के बीच दवाओं और जरूरी चीजों की सप्लाई में कमी की खबरों को भी खारिज किया है. उन्होंने कहा, ‘वहां हालात धीरे-धीरे सामान्य हो रहे हैं। लोगों को उनकी जरूरत का सामान, दवाएं सरकार की तरफ से उपलब्ध कराई जा रही हैं। कुछ जगहों पर प्रतिबंधों में ढील भी दी गई है। हालांकि, ऐहतिहातन कई इलाकों में अतिरिक्त सुरक्षा बल तैनात हैं।’

विदेशी दौरे पर हैं विदेश मंत्री

गौरतलब है कि विदेश मंत्री(Foreign Minister) एस. जयशंकर अपने विदेशी दौरे पर हैं। इस दौरे में वे रूस(Russia), पोलैंड(Poland) और हंगरी(Hungary) की यात्रा के बाद ब्रुसेल्स में मौजूद हैं। इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी फ्रांस, यूएई और अमेरिका के दौरे पर गए थे। दौरे के दौरान प्रधानमंत्री ने साफ़ तौर पर कह दिया था कि कश्मीर भारत-पाक का आंतरिक मसला है। इसलिए भारत इस मुद्दे पर किसी तीसरे देश को कष्ट नहीं देना चाहता। हालाँकि पाकिस्तान बार बार कश्मीर को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर लाकर मुद्दे में बाहरी देशों की भागीदारी का निवेदन करता रहा है।

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article

पंचायत चुनाव के लिए आजाद समाज पार्टी ने कही कमर, की ये त्यारी

आजाद समाज पार्टी ने आगामी जिला पंचायत चुनावों को लेकर कसी कमर।पहली बार चुनाव में अपने प्रत्याशियों की घोषणा करते हुए आजाद समाज पार्टी...

हो जाइए सावधान! कहीं आप भी ज्यादा Toilet तो नहीं जाते, भरना पड़ेगा भारी जुर्माना

नई दिल्ली : कभी ऐसा हो जाए कि आप जब अपने ऑफिस पहुंचे और नया फरमान दिखें जिसमें कहा जाए कि यदि टॉयलेट एक...

तिरंगे फहराने के जानें खास नियम, पालन नहीं करने पर जाना पड़ सकता जेल

नई दिल्ली : हर साल की भांति इस बार भी 26 जनवरी को बड़े ही धूमधाम से मनाया जा रहा है। दरअसल आज ही...

Nursery Admission Guidelines जनवरी के अंतिम हफ्ते में हो सकती हैं जारी

  नई दिल्ली : राजधानी में सीबीएसई बोर्ड (CBSE Board) परीक्षाओं के मद्देनजर 10वीं-12वीं के लिए स्कूलों 18 जनवरी से खोल दिया गया है। इन...

UPSC छात्रों को अतिरिक्त मौका नहीं, महामारी के कारण की गई थी दूसरे अवसर की अपील

नई दिल्ली : केंद्र ने शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट को बताया कि वह पिछले साल महामारी के कारण यूपीएससी (UPSC) द्वारा आयोजित परीक्षा में...