700 पुलिसकर्मी और 200 कैमरों ने ढूंढ निकाला इस महिला का पर्स, देखिए कौन

0
59

शनिवार सुबह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भतीजी दमयंती मोदी का पर्स स्नैच करने वालों में से एक(नोनू) को 24 घंटे के भीतर पकड़ लिया गया था। दो दिन पूरे होने से पहले ही दूसरे अपराधी बादल को भी पुलिस हिरासत में ले लिया गया है। साथ ही बदमाशों के पास से लूटा गया सारा सामान भी बरामद कर लिया गया। दिलचस्प है कि इस मामले में आरोपियों को पकड़ने के लिए 700 पुलिसवालों ने 200 सीसीटीवी चेक कर 24 घंटे के भीतर आरोपियों को धर दबोचा।

गिरफ्तार आरोपियों में एक 21 साल का रोहित है, जो सदर बाजार का रहने वाला है। वारदात को अंजाम देने के बाद वो सोनीपत जाकर अपने रिश्तेदार के यहां छुप गया था। उसने स्नैचिंग में इस्तेमाल स्कूटी सुल्तानपुरी में अपनी मौसी के यहां छुपा दी थी। दूसरा आरोपी बादल है, जिसको सुल्तानपुरी से पकड़ा गया है। बता दें कि 700 पुलिसकर्मियों ने 200 सीसीटीवी फुटेज को खंगालने के बाद महज 24 घंटे में दिल्ली पुलिस ने झपटमारी की वारदात को सुलझाने में सफलता हासिल की। तफ्तीश में जुटी पुलिस ने आरोपी को गिरफ्त में लेकर प्रेस कांफ्रेंस कर जानकारी दी।

आम लोगों के इतने मामले हैं दर्ज

माना जा रहा है कि प्रधानमंत्री मोदी की भतीजी का पर्स स्नैच होने की वजह से इस केस को फौरन सुलझाना दिल्ली पुलिस के लिए जरूरी था। वहीँ 30 सितम्बर तक इस साल झपटमारी की 4762 वारदातें दिल्ली पुलिस के रिकॉर्ड में दर्ज हैं जिनमें से किसी एकाध पर ही कार्यवाही कई गई है। ऐसे में जनता के बीच जाने पर न्यूज़नशा को जनता से सिर्फ एक ही बात सुनने को मिली, कि आम इंसान के लिए पुलिस शायद ही इतनी फुर्ती दिखाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here