कर्नाटक में 17 विधायक अयोग्य करार, फिर फंस गया बहुमत?

0
56

कर्नाटक के मुख्यमंत्री येदियुरप्पा के फ्लोर टेस्ट से पहले स्पीकर केआर रमेश कुमार ने बड़ा फैसला लिया है। स्पीकर ने इस्तीफा दिए 14 बागी विधायकों की सदस्यता रद्द कर दी है। इनमें कांग्रेस के 11 और जनता दल (सेकुलर) के 3 विधायक शामिल हैं। इस फैसले के बाद स्पीकर रमेश कुमार ने कहा कि मैंने कोई चालाकी या ड्रामा नहीं किया, बल्कि सौम्य तरीके से फैसला लिया है। इससे पहले स्पीकर ने 3 विधायकों को अयोग्य करार दिया था। यानी अब कुल इस्तीफा दिए 17 विधायक अयोग्य करार दिए जा चुके हैं।

ये हैं अयोग्य करार दिए गए विधायक

स्पीकर रमेश कुमार ने कांग्रेस के बैराठी बसवराज, मुनिरत्न, एसटी सोमशेखर, रोशन बेग, आनंद सिंह, एमटीबी नागराज, बीसी पाटिल, प्रताप गौड़ा पाटिल, डॉ. सुधाकर, शिवराम हेब्बार, श्रीमंत पाटिल को अयोग्य करार दिया। इसके अलावा जेडीएस के तीन बागी विधायकों के. गोपालैया, नारायण गौड़ा, ए एच विश्वनाथ को अयोग्य करार दिया है।

जादुई आंकड़ा है 104 का

कुल 17 विधायकों के अयोग्य घोषित होने के बाद कर्नाटक विधानसभा की संख्या 207 रह गई। जिसके कारण अब बहुमत का आंकड़ा 104 विधायकों का रह गया है।
कुल संख्या 105 विधायकों की है और बीजेपी के पास फिलहाल 105 विधायकों का समर्थन है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here