Saturday, January 23, 2021

पाकिस्तान ने कर लिया राहुल का इस्तेमाल, अब देनी पड़ रही है सफाई

Must read

आदतन अपराधी को किया गया जिलाबदर

बालाघाट, मध्यप्रदेश के बालाघाट जिले के लांजी तहसील के एक आदतन अपराधी को जिला कलेक्टर ने एक वर्ष के लिए जिलाबदर कर दिया है। कलेक्टर...

किसान के ट्रैक्टर रैली से क्यों डर रही है सरकार, जाने….

26 जनवरी को दिल्ली में किसानों की प्रस्तावित परेड के लिए हरियाणा, पंजाब और उत्तर प्रदेश के गाँव में बड़े पैमाने पर तैयारियाँ चल...

मनरेगा ने दिया 100 दिन का रोजगार, बस्ती में 3367 लोगों को मिला काम

बस्ती : उत्तर प्रदेश के बस्ती जिले में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम (मनरेगा) के तहत 14 विकास खण्डों में 3367 श्रमिकों...

26 जनवरी को ट्रैक्टर रैली पर नहीं बनी बात, सरकार के प्रस्ताव पर करेंगे विचार

दिल्ली की तमाम सीमाओं पर चल रहे किसान आंदोलन का आज 57वां दिन है। तमाम परेेशानियों के बाद भी किसान आंदोलन खत्म करने को...

श्रीनगर एयरपोर्ट से वापिस लौटाए जाने के बाद राहुल गांधी के बयान पर भारत-पाक की राजनीती ने तूल पकड़ ली है। जैसे ही पाकिस्तान ने कांग्रेस नेता राहुल गाँधी के बयान को हथियार बनाकर संयुक्त राष्ट्र के सामने कश्मीर मुद्दे को उठाने की चाल चली, वैसे ही भारत के नेता इस मामले पर एकजुट हो गए हैं। कांग्रेस पार्टी के नेताओं ने राहुल गाँधी के बयान पर सफाई देकर कहा है कि कश्मीर भारत का आंतरिक मामला है।

राहुल गाँधी ने कश्मीर से वापिस लौटाए जाने के बाद घाटी में सुरक्षा को लेकर सरकार पर सवाल उठाये थे। उन्होंने ट्वीट किया था कि ‘जम्मू और कश्मीर के लोगों को आजादी मिलने के 20 दिन हो चुके हैं और नागरिक स्वतंत्रता पर अंकुश लगा दिया गया है। जब हमने श्रीनगर आने की कोशिश की तो विपक्ष और प्रेस के नेताओं को जम्मू-कश्मीर के लोगों पर भड़के हुए प्रशासन और जानवर बल का स्वाद मिला।’ राहुल गाँधी के इस बयान को हथियार बनाकर पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र को एक खत लिखा था। पाकिस्तान की मानवाधिकार मंत्री शिरीन मजारी की ओर से लिखे गए पत्र में दावा किया गया कि अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद राहुल गांधी ने जम्मू-कश्मीर में लोगों की मौत का जिक्र किया था।

भारत का अटूट कश्मीर

पाकिस्तानी मंत्री शिरीन मजारी ने लिखा ‘भारत के मुख्यधारा के राजनेताओं जैसे कांग्रेस पार्टी के नेता राहुल गांधी ने स्वीकार किया था कि जम्मू-कश्मीर में लोग मर रहे हैं। वहां (कश्मीर) बहुत गलत हो रहा है।’ शिरीन मजारी ने हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के बयान का भी जिक्र किया, जिसमें खट्टर ने कश्मीरी लड़कियों से शादी करने से जुड़ा बयान दिया था। पाकिस्तान के इस दावे को खारिज करते हुए कांग्रेस के नेताओ के बयान आएं हैं जिनमे वे राहुल गाँधी के बयान पर सफाई पेश कर रहे हैं। उन्होंने कश्मीर को भारत का अटूट अंग बताया है। कांग्रेस नेता और प्रवक्ता रणदीप सुरेजवाला ने कहा है कि पाकिस्तान की ओर से राहुल गांधी के बारे में गलत सूचना दी गई है। दुनिया में किसी को संदेह नहीं है कि जम्मू कश्मीर और लद्दाख भारत के अभिन्न अंग थे-हैं-और हमेशा बने रहेंगे। पाकिस्तान की शैतानी से यह सच नहीं बदलेगा। सुरजेवाला के समर्थन में कांग्रेस नेता शशि थरूर ने भी ट्वीट किया। उन्होंने कहा ‘हम अनुच्छेद 370 को हटाए जाने की प्रक्रिया के खिलाफ हैं। इससे हमारे संवैधानिक और लोकतांत्रिक मूल्यों का हनन हुआ है। पाकिस्तान को हमारे इस रुख से कोई फायदा उठाने की जरूरत नहीं है।’

आतंकवाद का प्रमुख समर्थक पाकिस्तान

इनसे पहले खुद राहुल गाँधी ने ट्वीट कर कश्मीर मुद्दे पर सरकार से सहमति जताई। वायनाड में बाढ़ में फंसे लोगों की खबर लेने पहुंचे सांसद राहुल गांधी ने कहा, ‘मैं कई मसलों पर सरकार से असहमत हूं लेकिन यह साफ कर देना चाहता हूं कि कश्मीर भारत का आंतरिक मामला है। और इसमें पाकिस्तान या फिर किसी अन्य देश को हस्तक्षेप करने नहीं दिया जाएगा।’ उन्होंने पाकिस्तान को निशाना बनाते हुए आगे कहा कि ”जम्मू-कश्मीर में हिंसा है और यह पाकिस्तान द्वारा भड़काने और समर्थन देने की वजह से है। पाकिस्तान आतंकवाद के समर्थक के रूप में पूरी दुनिया में जाना जाता है।” इससे उन्होंने कश्मीर में होने वाली हिंसा के लिए साफ़ शब्दों में पाकिस्तान को ज़िम्मेदार ठहरा दिया है।

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article

हलवा सेरेमनी से बजट कार्यक्रम की शुरुआत,वित्त मंत्री समेत वरिष्ठ अधिकारी भी रहे मौजूद

नई दिल्ली : आगामी 1 फरवरी को बजट पेश किये जाएंगे। जिसको लेकर वित्त मंत्रालय ने तैयारी शुरु कर दी है। इसी कड़ी में...

पंचायत चुनाव के लिए आजाद समाज पार्टी ने कही कमर, की ये त्यारी

आजाद समाज पार्टी ने आगामी जिला पंचायत चुनावों को लेकर कसी कमर।पहली बार चुनाव में अपने प्रत्याशियों की घोषणा करते हुए आजाद समाज पार्टी...

हो जाइए सावधान! कहीं आप भी ज्यादा Toilet तो नहीं जाते, भरना पड़ेगा भारी जुर्माना

नई दिल्ली : कभी ऐसा हो जाए कि आप जब अपने ऑफिस पहुंचे और नया फरमान दिखें जिसमें कहा जाए कि यदि टॉयलेट एक...

तिरंगे फहराने के जानें खास नियम, पालन नहीं करने पर जाना पड़ सकता जेल

नई दिल्ली : हर साल की भांति इस बार भी 26 जनवरी को बड़े ही धूमधाम से मनाया जा रहा है। दरअसल आज ही...

Nursery Admission Guidelines जनवरी के अंतिम हफ्ते में हो सकती हैं जारी

  नई दिल्ली : राजधानी में सीबीएसई बोर्ड (CBSE Board) परीक्षाओं के मद्देनजर 10वीं-12वीं के लिए स्कूलों 18 जनवरी से खोल दिया गया है। इन...