महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री पद को लेकर नितिन गडकरी का बड़ा बयान, शिवसेना हुई परेशान

0
48

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में बीजेपी-शिवसेना के गठबंधन और आदित्य ठाकरे के मुख्यमंत्री पद की दावेदारी से लेकर वीर सावरकर को भारत रत्न दिलाने के मुद्दों पर राजनीति गरमाती जा रही है । ऐसे में केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने आदित्य ठाकरे को लेकर बड़ा बयान दिया है । साथ ही उन्होंने दावा किया है कि महाराष्ट्र में इस बार भी फडणवीस ही मुख्यमंत्री बनेंगे ।

पिछले कई दिनों से महाराष्ट्र और हरियाणा के चुनाव प्रचार अभियान में व्यस्त नितिन गडकरी ने कहा है कि महाराष्ट्र और हरियाणा में पिछले 5 साल में देवेंद्र फडणवीस और मनोहर लाल खट्टर की सरकार ने जो विकास कार्य किए हैं, उसी के नाम पर हम लोग वोट मांग रहे हैं । उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में काफी विकास हुआ है और देवेंद्र फडणवीस अगले मुख्यमंत्री बनेंगे इसमें कोई संदेह नहीं है । साथ ही आदित्य ठाकरे को लेकर उन्होंने कहा कि यह देवेंद्र फडणवीस के विशेषाधिकार क्षेत्र में आता है कि आदित्य ठाकरे मंत्री बनेंगे या क्या बनेंगे । जहां तक शिवसेना का मुख्यमंत्री पद मांगने की बात है कोई भी पार्टी अपनी बात रख सकती है । सबको अपनी अपनी बात रखने का अधिकार है ।

दोनों राज्यों में बहुमत से सरकार बनेगी : गडकरी

आर्टिकल 370 को लेकर केंद्रीय मंत्री ने कहा कि चुनाव में देश का विकास और धारा 370 हमारा बड़ा मुद्दा है । उन्होंने कहा, जो काम कांग्रेस नहीं कर पाई वह बीजेपी और मोदी सरकार ने धारा 370 हटाकर किया है । नितिन गडकरी ने कहा कि विपक्ष के पास कहने के लिए कोई बात नहीं है । हमें पूरा विश्वास है कि देवेंद्र जनता बीजेपी में पहले से भी ज्यादा विश्वास करेगी और दोनों राज्यों में बहुमत से सरकार बनेगी । वहीं महाराष्ट्र में एकनाथ खडसे और विनोद तावड़े जैसे बड़े नेताओं को टिकट न मिलने को लेकर उन्होंने कहा कि यह पार्टी आलाकमान का फैसला है । जो ठीक लगता है पार्टी उसके हिसाब से ही फैसला लेती है । बीजेपी नेता गडकरी ने कहा कि पार्टी के सब नेता मिलकर चुनाव लड़ रहे हैं और पार्टी को भारी बहुमत से जीत मिलेगी ।

सावरकर और राम मंदिर पर बोले गडकरी

गौरतलब है कि वीर सावरकर को भारत रत्न देने की बात पर विपक्ष द्वारा उठाए जा रहे सवाल पर केंद्रीय मंत्री ने कहा कि विपक्ष बिना वजह इस मामले को तूल दे रहा है । गडकरी ने कहा कि गांधी की हत्या में वीर सावरकर की कोई भूमिका नहीं थी । उनको क्लीन चिट दी गई थी । गडकरी ने कहा कि वीर सावरकर एक देशभक्त हैं, उनके योगदान को कम नहीं आंकना चाहिए और उनको भारत रत्न मिलना चाहिए । वहीं राम मंदिर को उन्होंने आस्था और विश्वास का विषय बताया । उन्होंने कहा कि मामला कोर्ट में है लेकिन हमें पूरा विश्वास और उम्मीद है कि राम के जन्म स्थान पर ही भव्य राम मंदिर बनेगा ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here