Sunday, November 29, 2020

कौन हैं आम आदमी पार्टी के संपर्क में आ चुके बीजेपी के तीन दिल्ली सीएम उम्मीदवार?

Must read

गोरखपुर…गोरखनाथ मंदिर में फ्रांस के राजदूत ने दर्शन-पूजन किया, अलौकिक छटा और भव्‍यता देख हुए अभीभूत

गोरखपुर: भारत में फ्रांस के राजदूत इमैनुएल लेनैन ने मंत्रोच्‍चार और शंखध्‍वनि के बीच गोरखनाथ मंदिर में बाबा गोरखनाथ का दर्शन पूजन किया. डेढ़...

बक्सर में अपराधियों का तांडव, घर में घुसकर पति-पत्नी को मारी गोली

इस वक्त की बड़ी खबर बक्सर से आ रही है, जहां बेखौफ अपराधियों का तांडव जारी है. हर दिन अपराधी पुलिस को चैलेंज करते...

रायसेन : प्रसिद्ध बौद्ध पर्यटन स्थल सांची में इस बार नहीं होगा महाबोधि महोत्सव, जाने क्यों

रायसेन : विश्व प्रसिद्ध पर्यटन स्थल सांची में प्रत्येक वर्ष नवम्बर माह के अंतिम रविवार को आयोजित होने वाला महाबोधि महोत्सव कोरोना महामारी के...

हंगामे से शुरू हुआ विधानसभा का चुनाव, राजद के विधायकों ने किया वॉकआउट

बिहार में आज विधानसभा अध्यक्ष का चुनाव हो रहा है। वही भारतीय जनता पार्टी और राष्ट्रीय जनता दल के विधायकों के बिच जबरदस्त मुकाबला...

दिल्ली में आगामी चुनावों को लेकर राजनीति ने एक नया मोड़ लिया है। आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता संजय सिंह ने दिल्ली-बीजेपी को चुनौती देते हुए एक बड़ा दावा किया है। बुधवार दोपहर उन्होंने बीजेपी को खुला आमंत्रण देते हुए कहा है कि वे आगामी चुनावो के लिए अपना उम्मीदवार घोषित करें।

बुधवार दोपहर संजय सिंह ने एक ट्वीट के ज़रिए कहा है कि बीजेपी के तीनो मुख्यमंत्री उम्मीदवारों से उनकी बातचीत है। और मुख्यमंत्री उम्मीदवार घोषित करते ही बाकी दो उम्मीदवार उनकी तरफ होंगे। उन्होंने लिखा ‘भाजपा के तीन CM उम्मीदवार हैं तीनों हमारे सम्पर्क में हैं, जिसको घोषित किया बाक़ी दो हमारी मदद करेंगे।’ बीजेपी पहले तय कर ले कि कौन मुख्यमंत्री बनना चाहता है, विजेंदर गुप्ता, विजय गोयल या मनोज तिवारी। आपको बता दें कि बीजेपी चुनावों में मुख्यमंत्री उम्मीदवार की घोषणा पहले नहीं करती है। हालांकि 2014 में दिल्ली के आम चुनावों के दौरान बीजेपी ने अपनी लीग से हटकर किरण बेदी का नाम मुख्यमंत्री उम्मीदवार के लिए घोषित किया था। और उन्ही चुनावों में बीजेपी को एक बड़ी हार का सामना करना पड़ा था।

इसके साथ ही नेता संजय सिंह ने बीजेपी पर नकली एजेंडा चलाने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा है कि बीजेपी नकली एजेंडे पर काम करती है। आर्थिक मंदी से निपटने पर बात न हो, इसलिए नाम बदलने जैसे नकली मुद्दे बीजेपी उठाती है। बीजेपी को काम बदलने की जरूरत है, नाम बदलने से कुछ नहीं होगा। गौरतलब है कि पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली की मृत्यु के बाद केंद्र सरकार ने दिल्ली के फ़िरोज़ शाह कोटला स्टेडियम का नाम बदल कर अरुण जेटली के नाम पर रखने की घोषणा की थी। वहीं पूर्व-दिल्ली के सांसद गौतम गंभीर ने यमुना स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स का नाम जेटली के नाम पर करने की मांग की है।

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article

राज्यसभा उपचुनाव : सुशील मोदी 2 दिसंबर को करेंगे नामांकन, RJD के उम्मीदवार पर सस्पेंस

बिहार की एक राज्यसभा सीट के लिए हो रहे उपचुनाव में मतदान होगा या नहीं इस पर से सस्पेंस खत्म नहीं हो रहा है।...

CM नीतीश पर अमर्यादित टिप्पणी से नाराज JDU कार्यकर्ताओं ने तेजस्वी का पूतला फूंका

मुज़फ़्फ़रपुर ; विधानसभा में  नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव द्वारा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के ऊपर अभद्र टिप्पणी करने को लेकर पूरे बिहार में जगह जगह...

मुज़फ़्फ़रपुर में हाईवे पर लूटपाट करने वाले गिरोह का पर्दाफाश, 5 किलो गांजा और हथियार के साथ 5 अपराधी गिरफ्तार

  मुज़फ़्फ़रपुर : जिले के गायघाट पुलिस ने हाइवे लूटपाट गिरोह के पांच सदस्यों को हथियार व लूट के समान के साथ पकड़ा और इस...

उत्तराखंड : मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र ने किया सूर्याधार जलाशय का लोकार्पण

देहरादून : मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने रविवार को स्वर्गीय गजेन्द्र दत्त नैथानी जलाशय सूर्याधार का लोकार्पण किया। इस झील के निर्माण पर 50.25...

Uttarakhand: 389 नए संक्रमित संक्रमित मिले, आठ की मौत, मरीजों की संख्या 74 हजार पार

देहरादून : उत्तराखंड में पिछले 24 घंटे के दौरान 389 नए मामलों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव प्राप्त हुई और 278 मरीज स्वस्थ होने...