कमलेश तिवारी हत्याकांड में नामजद मौलाना हुआ गिरफ्तार

0
56

बिजनौर पुलिस ने कमलेश तिवारी हत्याकांड मामले में नामजद मौलाना अनवारुल हक को गिरफ्तार किया है। हक़ को पुलिस ने शनिवार सुबह सुबह 3:00 बजे नगीना थाना क्षेत्र से गिरफ्तार किया। फिलहाल मौलाना को कहीं गुप्त स्थान पर रखा गया है। पुलिस मौलाना अनवारुल हक़ से गत्य के पीछे के अपराधी को लेकर पूछताछ कर रही है। बता दें कि मृतक पत्नी की तहरीर पर मौलाना के ख़िलाफ़ रिपोर्ट दर्ज की गई थी।

बता दें कि बिजनौर के मौलाना अनवारुल हक ने 4 दिसंबर 2015 को कमलेश तिवारी के बयान को लेकर कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन किया था। मुस्लिम समुदाय से आह्वान करते हुए उन्होंने कहा था कि जो भी कमलेश तिवारी का सर काट के लाएगा उसको 51 लाख रुपया मुस्लिम समाज द्वारा दिया जाएगा। इस बयान को लेकर अनवारुल हक उस समय चर्चा में आए थे।

उनके इसी बयान को आधार बताते हुए कमलेश तिवारी की पत्नी ने उन्हें नामजद कराया था। हालाँकि अनवारूल हक के ससुर मौसिन और उनकी पत्नी गुलशन का कहना है कि उन्हें 2015 में अनवारुल हक द्वारा दिए गए बयान के बारे में कोई भी जानकारी नहीं है और जो अनवारूल हक को गिरफ्तार किया गया है उनका इस हत्याकांड से कोई भी लेना देना नहीं है।

क्या है मामला

बीती रात बिजनौर हिंदू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी कि लखनऊ में दो अज्ञात बदमाशों द्वारा चाकू मारकर हत्या कर दी गई थी। इसका सम्बन्ध 2015 की घटना से जोड़ा जा रहा है जब कमलेश तिवारी ने 2015 में मोहम्मद पैगंबर के खिलाफ एक विवादित बयान दिया था। इस विवादित बयान के बाद मुस्लिम समुदाय में आक्रोश फैल गया था। इस बयान को लेकर मुस्लिम समुदाय के लोगों ने जगह जगह कमलेश तिवारी का पुतला फूंक कर विरोध प्रदर्शन किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here