Wednesday, April 14, 2021

योगी सरकार का अनोखा पहल, UP के हर जिले के विद्यार्थियों को मिलेगा टैबलेट

Must read

पीनना गांव प्रधान पद का उम्मीदवार पिंकी गोस्वामी का दिखा अलग अंदाज

मुज़फ्फरनगर/ब्रेकिंग पीनना गांव प्रधान पद का उम्मीदवार पिंकी गोस्वामी अलग अंदाज, पीनना गांव से बघरा ब्लॉक पर खुद साइकिल चला पहुँचा नामांकन स्थल, ग्राम प्रधान प्रत्याशी के...

कोरोना अपडेट, भारत दुनिया का तीसरा सबसे प्रभावित देश

देश में कोरोना का कहर लगातार जारी है. हर दिन हज़ारों की संख्या में नए मामले सामने आते दिख रहे हैं. कोरोना महामारी की...

गांवो में नल से जल के लिए उज्जैन में हो रहे 300 करोड़ रूपये के कार्य

भोपाल, मध्यप्रदेश के उज्जैन के गांवों में नल से पेयजल की आपूर्ति किए जाने के लिए 300 करोड़ रूपये के कार्यो को स्वीकृति दी...

लखनऊ, कानपुर, वाराणसी और प्रयागराज में 50 फ़ीसदी लोगों के लिए वर्क फ्राम होम लागू

लखनऊ, कानपुर, वाराणसी और प्रयागराज में 50 फ़ीसदी लोगों के लिए वर्क फ्राम होम लागू सभी सरकारी और निजी दफ्तरों में 50 फीसदी उपस्थिति निर्धारित चार...

लखनऊ. उत्तर प्रदेश की योगी सरकार बीजेपी के चुनावी घोषणापत्र के अहम वादे को पूरा करने की तैयारी कर रही है. दरअसल 2017 के विधानसभा चुनावों में बीजेपी ने छात्रों को मुफ्त लैपटॉप और मुफ्त इंटरनेट देने का वादा किया था. इसी क्रम में अब 4 साल बाद सरकार हर ज़िले के 1 हज़ार विद्यार्थियों को टैबलेट  दे सकती है. जानकारी के अनुसार हर ज़िले में कॉलेज में दाख़िला लेने वाले 1000 विद्यार्थियों को सरकार टैबलेट का तोहफ़ा दे सकती है. इस फैसले को कहीं न कहीं बीजेपी की चुनाव की तैयारियों से जोड़कर देखा जा रहा है.

सरकार की बीजेपी के लोक संकल्प पत्र में किए गए वादे को चुनावी वर्ष में पूरा किये जाने की तैयारी है. दरअसल बीजेपी ने अपने चुनावी घोषणापत्र में वादा किया था कि बिना किसी भेदभाव के हर कालेज में दाख़िला लेने वाले छात्र को एक लेपटाप और 1 जीबी डेटा दिया जाएगा. लेकिन सरकार आने के बाद इस वादे को ठंडे बस्ते में डाल दिया गया. लिहाजा अब तक ये चुनावी वादा पूरा नहीं हो सका.

ये भी पढ़ें-डब्लूएचओ का भारत में आयुर्वेद का वैश्विक केन्द्र बनाने पर जोर

दूसरी तरफ विपक्षी समाजवादी पार्टी लगातार इस मुद्दे पर योगी सरकार को घेरती आई है. लेकिन अब सूत्रों के मुताबिक़ सरकार चुनावी वर्ष में एक बार फिर से अपने पिछले वादे को पूरा करने में लिए जल्द बड़ा ऐलान कर सकती है.

पिछले साल आई थी ये योजना

वैसे पिछले साल ही योगी सरकार ने इसी तरह की योजना चुनिंदा 7 पिछड़े जिलों के सरकारी कॉलेजों में छात्रों के लिए टैबलेट देने की योजना लागू की थी. उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने बताया था कि प्रदेश के श्रावस्ती, चंदौली, सोनभद्र, सिद्धार्थनगर, बलरामपुर, फतेहपुर और चित्रकूट  के सरकारी कॉलेजों की लाइब्रेरी में टैबलेट्स रखे जाएंगे. उच्च शिक्षा विभाग ने इन पिछड़े जिलों के सभी 18 सरकारी कॉलेजों के लिए 160 टैबलेट खरीदने का फैसला किया है. इन जिलों के राजकीय महाविद्यालयों के पुस्तकालयों में टैबलेट वितरित किए जाएंगे. पुस्तकों की तरह ही टैबलेट भी विद्यार्थियों को उपलब्ध कराए जाएंगे.

टैबलेट में उत्तर प्रदेश डिजिटल लाइब्रेरी की पाठ्य सामग्री के साथ अन्य आवश्यक सामग्री भी उपलब्ध रहेगी. योजना थी कि 18 सरकारी कॉलेजों में से हर एक को शैक्षणिक सत्र 2020-21 के दौरान 8-9 टैबलेट दिए जाएंगे.

- Advertisement -

More articles

Latest article

मंदिर में शादी कर लांखो की नकदी और जवैलरी लेकर रफूचक्कर हुई लूटेरी दुल्हन

जनपद मुज़फ्फरनगर के थाना भौरा कलां क्षेत्र के गांव मोहम्मदपुर रायसिंह निवासी किसान देवेंद्र मलिक एक महिला और एक रिस्तेदार के हाथों ठगी का...

अजमेर में भगवान झूलेलाल की ज्योत एवं प्रतिमा का जुलूस निकाला

अजमेर,  राजस्थान में अजमेर में सिंधी समाज के इष्टदेव भगवान झूलेलाल के अवतरण दिवस चेटीचंड के मौके पर आज भगवान झूलेलाल की ज्योत एवं...

राजनांदगांव में कोरोना संक्रमण बढ़ा, सुविधाओं को हो रहा विस्तार

राजनांदगांव,  छत्तीसगढ़ की राजनांदगांव नगर पालिका सहित जिले में एक ही दिन में 1284 कोरोना संक्रमित मरीज सामने आये और लगभग दर्जनभर लोगों की...

जीटीए का स्थायी राजनीतिक समाधान निकाला जायेगा: शाह

लेबोंग,  केंन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने मंगलवार को दार्जिलिंग हिल्स के लोगों को आश्वासन दिया कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) गोरखालैंड क्षेत्रीय प्रशासन...

एम्स में खाली बेड कोरोना मरीजों के लिए-शिवराज

भोपाल,  मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकरण के संबंध में चिंता जाहिर करते हुए कहा कि...