पहले खेल, फिर राजनीति अब फिल्मों की तरफ चले बॉक्सर विजेंदर

0
74

भारत के बेहतरीन मुक्केबाज़ों में से एक हरियाणा(haryana) के विजेंदर सिंह एक बार फिर फिल्मों में कदम रखने के लिए तैयार हैं। खेल और राजनीती आज़माने के बाद विजेंदर एक बार फिर बॉलीवुड(Bollywood) में हाथ आज़माना चाहते हैं। आने वाले साल में लोग उन्हें फिल्म में देख पाएंगे। इसके साथ ही उन्होंने अपने इलाके में मुक्केबाज़ी के लिए अकादमी खोलने की भी घोषणा की।

भिवानी के विजेंदर सिंह(Vijender Singh) बेनीवाल हरियाणा रोडवेज में चालक महिपाल बेनिवाल के पुत्र हैं। 31 साल की सेवा के बाद उनके रिटायरमेंट पर रोङवेज विभाग की तरफ से विदाई समारोह का आयोजन किया गया था। इस मौके पर पूरे सिंह परिवार की मौजूदगी दर्ज की गई। इस अवसर पर विजेंदर ने मीडिया से रूबरू होते हुए कहा कि ‘हमने जीवन में बहुत बुरे दिन व गरीबी देखी है, काफी संघर्ष के बाद ये मुकाम हासिल किया है। उन्होंने कहा कि साल के आखिर में प्रो-बॉक्सिंग का यूएस अमेरिका में मुकाबला होगा जिसके, जीत हार तो भगवान जाने, लेकिन मैं इसके लिए हार्ड कोर ट्रेनिंग शुरु कर रहा हूं।’ आने वाले ओलंपिक में भाग लेने के सवाल पर बिजेन्द्र ने कहा कि मौका मिला तो वो देश का प्रतिनिधित्व करने का पूरा प्रयास करेंगे।

2014 में ‘फुगली’ से मारी एंट्री 

इसके साथ ही उन्होंने सरकार पर तंज कसते हुए कहा की सरकार का इंतज़ार करने के बाद अब वो खुद अपने गांव में बॉक्सिंग एकेडमी व होस्टल बनवाएंगे। उन्होंने कहा कि ‘हमारे गांव में बॉक्सिंग एकेडमी(Boxing Academy) के लिए सरकार ने कुछ नहीं किया। अब मैं सरकार का इंतजार नहीं करूँगा और मैं खुद अपने सपने साकार करने के लिए अपने गांव में बॉक्सिंग एकेडमी व होस्टल बनवाऊंगा। इसके साथ ही 2019 के लोकसभा चुनावों में दिल्ली(Delhi) की सीट से लड़ने के बारे में उन्होंने कहा कि वे हारे ज़रूर मगर घर पर नहीं बैठे। उन्होंने मुक्केबाज़ी और राजनीति, दोनों में एक अच्छा अनुभव होने की बात कही। गौरतलब है कि इससे पहले विजेंदर 2014 में फिल्म फुगली(Fugly) में दिखाई दिए थे। यह उनके फ़िल्मी करियर की पहली फिल्म थी। हालांकि ये फिल्म स्क्रीन पर ज़्यादा कमाल नहीं दिखा पाई थी। ऐसे में उनकी आने वाली फिल्म से लोग काफी उमीदें लगाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here