राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन में अशोक गहलोत के बेटे का रास्ता साफ मगर इस सवाल के साथ

0
48

राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष पद के लिए चुनाव चल रहे हैं। हालाँकि परिणाम से पहले ही मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत का इस पद तक का रास्ता साफ हो गया है। सोमवार देर रात सवा दो बजे राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन के वोटरों की सूची जारी की गई। इसमें वैभव गहलोत का विरोध कर रहे हैं कांग्रेस नेता रामेश्वर डूडी का नाम काट दिया गया है, यानी अब गहलोत के सामने कोई भी प्रत्याशी नहीं है।

रामेश्वर डूडी गुटके 3 जिले नागौर, अलवर और श्रीगंगानगर को अयोग्य घोषित कर दिया गया है। क्योंकि यहां पर ललित मोदी और उनसे जुड़े हुए लोग जिला संघों में थे। देर रात जारी सूची के अनुसार अब केवल 30 जिला संघ और दो पूर्व खिलाड़ी हैं जो वोट डाल सकेंगे। चुनाव के लिए आज से नामांकन शुरू होगा और 4 अक्टूबर को यह चुनाव होगा।

क्या कहा है रामेश्वर डूडी ने

इस मामले पर कांग्रेस नेता रामेश्वर डूडी ने कहा कि दो-दो सरकारी वकील वैभव गहलोत के लिए पैरवी कर रहे थे। अपनी ही पार्टी के मुख्यमंत्री पर सत्ता के दुरुपयोग का आरोप लगाते हुए डूडी ने कहा कि ताकत के बल पर वैभव गहलोत को राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन का अध्यक्ष बनाने की कोशिश की जा रही है। गौरतलब है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत जोधपुर से लोकसभा चुनाव हार गए थे। तभी से वह क्रिकेट राजनीति में पैर जमाने की कोशिश कर रहे हैं। राजस्थान विधानसभा के अध्यक्ष सीपी जोशी राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन के भी अध्यक्ष हैं। जोशी ही वैभव गहलोत को राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन में लेकर आए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here