फिर से हाई अलर्ट पर उत्तराखंड , भारी बारिश अस्तव्यस्त कर सकती है जीवन

0
93

उत्तराखंड में मानसून के चलते बाढ़ और लगातार बारिश परेशानी का कारण बनती जा रही है। थोड़े दिनों की राहत के बाद एक बार फिर प्रदेश में भारी बारिश की संभावना जताई जा रही है। मौसम विभाग द्वारा शनिवार को प्रदेश के 4 जिलों में भारी बारिश की आशंका के चलते ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया।

मौसम विभाग के निदेशक बिक्रम सिंह ने कहा कि उत्तराखंड की राजधानी देहरादून(Dehradun) और सीमांत जिले पिथौरागढ़ में भारी से बहुत भारी बारिश होने की संभावना है, जिसके तहत सभी संबंधित विभागों और अधिकारियों को सतर्क रहने के लिए कहा गया है। इसके साथ ही गढ़वाल(Garhwal) मंडल में आने वाले जिले जिनमें पौड़ी गढ़वाल, चमोली(Chamoli), हरिद्वार(Haridwar) और कुमाऊं मंडल में आने वाले जिले बागेश्वर(Bageshwar), अल्मोड़ा(Almoda), नैनीताल(Nainital) और उधम सिंह नगर के लिए भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। उन्होंने बताया कि तेज बारिश के दौरान किसी भी तरह की आवाजाही करना, नदी नालों के करीब जाना किसी भी हाल में सुरक्षित नहीं है। इसका असर धीरे-धीरे तमाम जिलों में नज़र आने लगा है। शनिवार को जहां नैनीताल जिले में बारिश शुरू हुई, तो वहीं देहरादून में भी बादलों की तेज गर्जन के बाद बारिश हुई। कुछ ऐसा ही हाल उधम सिंह नगर(Udham Singh Nagar) जिले का भी है। वहीँ बद्रीनाथ(Badrinath) मार्ग पर भूस्खलन की वजह से काफी दिक्कत हो रही है। लोगों की पैदल आवाजाही भी रोक दी गई है।

ऐसे में हर बार की तरह इस बार भी मौसम विभाग का अलर्ट सही साबित होता दिखाई दे रहा है। गौरतलब है कि इन चारों जिलों में येलो अलर्ट को ऑरेंज अलर्ट में बदल दिया गया है। बता दें कि उत्तराखंड में अब तक हुई बारिश की वजह से 65 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। 100 से ज़्यादा लोग जहाँ घायल हुए तो वहीं कई लोग लापता भी हुए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here